पहले पत्नी और दुधमुंही बेटी का रेता गला, फिर खुद जहर खाकर दे दी जान

लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मड़ियांव थाना क्षेत्र में मंगलवार रात पत्नी और दुधमुंही बेटी का गला रेतकर युवक ने भी जहर खाकर जान दे दी। मृत महिला क्षेत्र के प्रभाकर अस्पताल में काम करती थी और परिवार के साथ यहीं रहती थी।

बताया जा रहा है कि मड़ियांव निवासी नूरी क्षेत्र के प्रभाकर अस्पताल में काम करती थी। वह अपने पति परशुराम और दो महीने की बच्ची के साथ अस्पताल परिसर में ही रहती थी। मंगलवार देर रात परशुराम ने नूरी का गला रेत दिया। उसके बाद मासूम बच्ची का भी गला रेत दिया।

घटना को अंजाम देने के बाद परशुराम ने जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर वह कमरे के बाहर भागते हुए आकर बोला बीवी ने मुझे जहर खिला दिया है और वह भी मर गई। हॉस्पिटल वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस टीन मौके पर पहुंची। उसे हॉस्पिटल में भर्ती किया गया लेकिन वहां उसने भी दम तोड़ दिया।

पुलिस ने कमरे में जाकर देखा तो पत्नी और मासूम के शव खून से लथपथ पड़े थे। पुलिस को घर में सुसाइड नोट और हत्या में प्रयुक्त चाकू मिला है। सुसाइड नोट में परशुराम ने अपनी पत्नी की दो बहनों पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper