सभी नगरीय निकायों में 05 से 12 दिसंबर तक चलेगा ‘नगर सुशोभन अभियान

 

लखनऊ : प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री श्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि सभी नगरीय निकायों में 05 दिसंबर से 12 दिसंबर तक एक सप्ताह का ‘नगर सुशोभन अभियान’ चलाया जाएगा। इस दौरान साफ-सुथरा बनाए गए सभी कूड़ा स्थलों को सजाया जाएगा। ऐसे स्थलों का सुंदरीकरण किया जाएगा, जिससे कि फिर से यह कूड़ा स्थलों के रूप में परिवर्तित न हो सके। कहा कि विगत 01 दिसंबर को 75 घंटे का 75 जिलों में कूड़ा स्थलों की सफाई का महा अभियान चलाया गया। रविवार को पूर्वान्ह 11:00 बजे इस अभियान के अनवरत सफाई के 75 घंटे पूरे हुए।

नगर विकास मंत्री श्री ए0के0 शर्मा आज अपराह्न 12:30 बजे जल निगम के फील्ड हॉस्टल ‘संगम’ में नगर विकास के सभी अधिकारियों के साथ वर्चुअल संवाद कर प्रदेश में स्वच्छता के लिए चलाए गए प्रतिबद्ध: 75 जिला, 75 घंटे, 750 निकाय’ अभियान का समापन किया और निर्देश दिए कि 05 दिसंबर से 01 सप्ताह का ‘नगर सुशोभन अभियान’ पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा, जिसमें अभी तक साफ किए गए सभी कूड़ा स्थलों को सुंदर बनाया जाएगा, जिससे कि यह कूड़ा स्थल फिर से कूड़ा एवं गंदगी का रूप न ले सके। उन्होंने 75 घंटे सफाई अभियान की ऐतिहासिक सफलता पर सभी सहयोगियों,जनप्रतिनिधियों, पदाधिकारियों, अधिकारियों, सफाई कर्मचारियों एवं आमजन को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से ही छोटे बड़े निकाय एवं शहरों में स्थाई रूप ले चुके गंदगी के कोढ़ को समाप्त किया जा सका है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सफाई निरंतर चलने वाला कार्य है। इस सफ़ाई को सभी के सहयोग से बनाए रखना है।

ए0के0 शर्मा ने कहा कि विगत 07 माह से प्रदेश में साफ किए गए ऐसे सभी जगहों, स्थानों की साफ सफाई स्थाई, टिकाऊ एवम् पूर्णकालिक बनाने के लिए इन स्थानों पर पौधरोपण कराया जाए,पार्क व बगीचा बनाए जाय, बच्चों के लिए खेलकूद का स्थान बनाया जाए। वहां पर रंगोली बनाई जाए, गमले लगाया जाए, फूलों के पौधे लगाए जाएं, दीवालो की रंगाई पुताई,पेंटिंग कराई जाए। सेल्फी प्वाइंट बनाए जाएं। इन सभी कार्यों में स्थानीय शैक्षणिक संस्थाओं, आर्ट्स के बच्चों, सामाजिक संगठनों एवं एनजीओ का भी सहयोग लिया जाय। उन्होंने निकायों की नर्सरी में रखें हुए गमलों को स्कूलों, स्वास्थ्य केंद्रों,एवं सार्वजानिक स्थलों को सुंदर स्वच्छ बनाने के लिए इनका प्रयोग करने को कहा। इस दौरान गलियों मोहल्लों नाले नालियों की सफाई में कोई कमी न रहे यह सुनिश्चित करना है।

नगर विकास मंत्री ने सचिव श्री अनिल कुमार को निर्देश दिया कि पीने के पाइप, टेलीफोन की केबिल,गैस की लाइन ले जाते समय सड़कों गलियों की खुदाई के बाद मरम्मत के अधूरे कार्यों को भी इसी दौरान शीघ्र पूरा करना है और इन कार्यों की गहन मोनिटरिंग के लिए सेल भी बनाया जाए। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान शहरों के सभी चौराहों, सड़कों के डिवाइडर, रेलिंग और जेब्रा क्रॉसिंग को साफ़ करके नए ढंग से सजाना है और पेंटिंग भी करनी है। इस अभियान के पश्चात कोई भी ऐसा चौराहा या फुटपाथ शेष न रहे, जिसकी पेंटिंग व सुंदरीकरण का कार्य न किया गया हो,सड़कों में कोई भी गड्ढा व कट भरने से शेष न रहे, इसकी नियमित मानिटरिंग की जाए। उन्होंने कहा कि आज सुबह ही आवास में एक दर्जन लोग आकर प्रदेश की साफ-सफाई की तारीफ की है। साथ ही मैंने आज एक ट्वीट भी किया है, जिसमें किसी के घर का पता कूड़ेदान के बगल वाला बन गया था। ऐसी विकट परिस्थिति बन गई थी प्रदेश की, जिसको पूर्णतया समाप्त किया गया है।

कार्यक्रम में प्रमुख सचिव श्री अमृत अभिजात, सचिव श्री अनिल कुमार, डायरेक्टर नेहा शर्मा के साथ अन्य विभागीय अधिकारी वर्चुअली जुड़े थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper