अब रोटोमैक पेन के मालिक पर बैंक फ्रॉड का आरोप, हिरासत में विक्रम कोठारी

कानपुर : अब एक और बड़ी कंपनी पर सीबीआई ने शिकंजा कसा है। जांच एजेंसी ने 800 करोड़ के बैंक फ्रॉड में रोटोमैक पेन कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी के खिलाफ केस दर्ज किया है। कोठारी को हिरासत में ले लिया गया है। उन पर नियमों को ताक पर रखते हुए 5 बैंकों से कर्ज लेने और इसके गबन का आरोप है। इसी सिलसिले में सोमवार सुबह कोठारी के कानपुर स्थित घर समेत कुल 3 ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की। पिछले दिनों सोशल मीडिया में कोठारी के देश छोड़ने की खबरें आई थीं। इसके बाद कोठारी ने कहा कि वे भागे नहीं हैं। रविवार को कानपुर की एक शादी में देखे गए, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दोनों उपमुख्यमंत्री भी शामिल हुए।

सीबीआई प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा कि जांच एजेंसी ने 800 करोड़ के बैंक फ्रॉड में रोटोमैक के मालिक विक्रम कोठारी के खिलाफ केस दर्ज किया है। कोठारी के अलावा उनकी पत्नी और बच्चों से भी पूछताछ हो रही है। फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। कानपुर में उनके घर समेत 3 ठिकानों पर छापेमारी हुई।

कोठारी ने इलाहाबाद बैंक से 352 करोड़, यूनियन बैंक से 485 करोड़ समेत कुल 5 नेशनलाइज्ड बैंकों से करीब 800 करोड़ का कर्ज लिया है। आरोप है कि रोटोमैक ने कर्ज नहीं चुकाया और इसके लिए बैंकों ने नियमों को ताक पर रखा।

ऐसे उजागर हुआ पूरा मामला
विक्रम कोठारी के खिलाफ 600 करोड़ का बाउंस चेक देने का केस हुआ है। इस मामले में आरबीआई ने इलाहाबाद बैंक को नोटिस भेजा है। बैंक ऑफ बड़ौदा की शिकायत पर सीबीआई ने कोठारी के खिलाफ केस दर्ज किया। इसके बाद अफसरों ने सोमवार को उनके ठिकानों पर छापेमारी शुरू की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper