संशय खत्म, ओपी सिंह ही होंगे यूपी के नए DGP

द लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो :  केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के डीजी पद से उन्हें कार्यमुक्त कर दिया गया है।केंद्र सरकार से रिलीव होने के बाद सबसे बड़े प्रदेश यूपी के डीजीपी के रूप में ओपी सिंह जल्द ही अपना कार्यभार संभाल लेंगे। 1983 बैच के आईपीएस ओपी सिंह ओपी सिंह सोमवार या मंगलवार तक प्रदेश की कमान संभाल सकते हैं।

ओपी सिंह को डीजीपी बनाए जाने को लेकर प्रदेश और केंद्र सरकार में कुछ मतभेद बताए जा रहे थे। जो अब दूर हो गए हैं। प्रदेश सरकार ने ओपी सिंह को रिलीव करने का लेटर जारी कर दिया है।

ओपी सिंह के बारे में
ओपी सिंह बिहार के गया जिले के मीरा बिगहा गांव के रहने वाले हैं। वह वर्तमान में सीआईएसएफ डीजी के पद पर तैनात हैं। वह 1983 बैंच के यूपी कैडर के आईपीएस ऑफिसर हैं। वह केंद्र और यूपी में कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को निभा चुके हैं। सिंह को 1993 में बहादुरी के लिए इंडियन पुलिस मेडल, 1999 में सराहनीय सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस मेडल और 2005 में विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक मिल चुका है। कड़क मिजाज के आईपीएस ओपी सिंह अपनी पोस्टिंग के दौरान खासा चर्चा में रहे है।

महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों के साथ सीआईएसएफ को दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन, VIP सुरक्षा, आपदा प्रबंधन तथा हती में यूएन की सशस्त्र व पुलिस यूनिट स्थापना की सुरक्षा करने जैसे कार्य भी हाल ही में को सौंपे गए थे।

लखनऊ के तीन बार एसएसपी रहे हैं ओपी सिंह
सिंह अल्मोड़ा, खीरी, बुलंदशहर, लखनऊ, इलाहाबाद, मुरादाबाद में बतौर एसएसपी काम कर चुके हैं। ओपी सिंह 3 बार लखनऊ के एसएसपी रह चुके हैं। आजमगढ़ और मुरादाबाद के डीआईजी व मेरठ जोन के आईजी भी रह चुके हैं। इनके पास सीआरपीएफ का लंबा अनुभव है। वह दिल्ली में सीआईएसएफ के डीजी के तौर पर सेवाएं दे रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper