कॉल सेंटर के माध्यम लोगों को बनाते थे शिकार, अश्लील वीडियो और बातचीत की करते थे रिकार्डिंग, पुलिस ने किया भंडाफोड़, अभियुक्त गिरफ्तार

लखनऊ में नौकरानी की तलाश में मिली कॉल-गर्ल, ब्लैकमेल कर ऐंठे 52 लाख, 50 लाख से अधिक बरामद

लखनऊ: लखनऊ कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। जिसमें एक बैंक कर्मी को गूगल सर्च पर एक नौकरानी की तलाश करने कुछ ही देर बार अंजान नंबर से फोन आता है। वह उसको अपनी बातों में फंसाकर अश्लील बातें करने लगती है। बैंक कर्मी के फोन काटते उसकी बातें रिकार्ड कर ब्लैकमेल करने की धमकी वाला दोबारा फोन करती है। बैंक कर्मी इज्जत की खातिर उसको 52 लाख रुपये कई बार में देता है। उन्होंने रोज मांग बढ़ने पर पुलिस से शिकायत की। जिसके बाद पारा पुलिस ने साइबर सेल की मदद से डेटिंग एप के माध्यम से लोगों को ठगने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए एक युवक को गिरफ्तार कर लिया।

साइबर सेल प्रभारी रणजीत राय के मुताबिक पीड़ित की शिकायत पर सर्विलांस की मदद से पश्चिम बंगाल के भवानीपुर तांतीपाढ़ा निवासी संदीप मंडल को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया। वह अपने गिरोह के साथ घर में काम करने वालों की तलाश करने वालों लड़कियों के माध्यम से को फसाते थे। इनके गिरोह के अन्य साथियों का पता लगाया जा रहा है। आरोपी से पीड़ित के 52 लाख रुपये भी बरामद हुए। संदीप के मुताबिक वह लोगो कॉल सेंटर्स के माध्यम से घर में काम करने वालों की तलाश करने वालों को फसाते थे। गूगल पर मशीन डेटा और सोशल मीडिया डेटा के माध्यम से लोगों के मोबाइल नम्बर लेते थे। फिर अपने कॉल सेंटर की लड़कियों से उनकी जरूरत के हिसाब से बात शुरू कर रजिस्ट्रेशन और सिक्योरिटी के नाम पर पैसे लेते। फिर लड़कियों से बातें कराते।

जब कस्टमर से वॉइस कॉलिंग के माध्यम से कुछ अश्लील बातें और वीडियो कॉलिंग के माध्यम से वीडियो रिकार्ड कर ली जाती हैं, तब हम कस्टमर को उन्हें उनके घर व मोहल्ले, मित्र और रिश्तेदारों में बदनाम कर देने की धमकी देकर ब्लैक मेल करते। पूछताछ में सामने आया कि यह लोग डेटिंग एप भी चलाते हैं। संदीप के मुताबिक इसके लिए सबसे पहले अपने सीनियर के माध्यम से फर्जी नाम पते पर सिम कार्ड और फर्जी बैंक अकाउंट्स खुलवाते हैं। फिल उन नंबर LOCANTO वेबसाइट और अन्य DATING साइट के लिये एड देते हैं। जिसके बाद कस्टमर हमारे एड को पढ़कर हमे उन नम्बरों पर कॉल करता है। जिसे हमारे कॉल सेंटर की लड़कियां बात कर फंसाती हैं।

तालकटोरा निवासी बैंक कर्मी राजेश श्रीवास्तव के मुताबिक उन्होंने मार्च में घर की नौकरानी की तलाश के लिए गूगल पर सर्च किया था। जिसके बाद उनके मोबाइल पर एक नंबर से 22 मार्च को एक कॉल आया की अगर आपको नौकरानी चाहिए तो पहले आपको कुछ पैसे देकर रजिस्ट्रेशन करना होगा। फिर हम आपको कुछ फोटो भेजेंगे। जिसको सिलेक्ट करेंगे हम उसे आपके पास भेज देंगे। नौकरानी की जरूरत के चलते फोन करने वाली की बात को मानते हुए सभी फार्मेल्टी पूरी कर दी। जिसके कुछ देर बाद एक महिला का फोन आता है और वह अश्लील बातें करने लगी। मना करने पर फोन कटते ही एक युवक का फोन आता है और धमकी देता है। जिसके बाद ब्लैकमेलिंग का दौर शुरू हो जाता है।

फोन करने वाले युवक ने कहा कि आप का नंबर हमारे couple goals नामक dating company में रजिस्टर कर लिया गया है और आपकी रिकॉर्डिंग भी हमारे पास है, हम ये रिकॉर्डिंग आपके परिवार , रिश्तेदारों, मित्रों व आपके ऑफिस में भेजकर आपको बदनाम कर देंगे, इसलिए आप हमारी कंपनी को पैसे देते रहिए।
सामाजिक प्रतिष्ठा के चलते उसकी बातों में आकर 22 मार्च से अप्रैल तक साइबर ठग के विभिन्न बैंक अकाउंट्स में लगभग 52 लाख रुपये भेजे, लेकिन उनकी मांग बढ़ती रही। जिसके चलते साइबर क्राइम सेल और पारा थाना पर शिकायत की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper