प्रकाश राज ने फिर दिया विवादित बयान, कहा- मोदी और शाह हिंदू नहीं

हैदराबाद: हैदराबाद में एक कार्यक्रम में बोलते हुए फिल्म अभिनेता प्रकाश राज ने कहा कि वह मानते हैं कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह हिंदू नहीं हैं। प्रकाश राज ने कहा जब मोदी सरकार का कोई मंत्री किसी एक धर्म का पूरी तरह से सफाया करने की बात कहता है और प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी के अध्यक्ष चुप रहते हैं तो उनके हिंदू होने पर सवाल उठाने को कैसे गलत ठहराया जा सकता है। इस अवसर पर प्रकाश राज के अलावा मंच पर फिल्म निर्देशक एसके शशिधरन, दलित कार्यकर्ता कांचा इलाय्हा और अभिनेता विशाल ने भी शिरकत की।

इसी कार्यक्रम में रजनीकांत और कमल हासन का उदाहरण देते हुए विशाल से पूछा गया कि क्या वह भी राजनीतिक सफर की शुरुआत करने की तैयारी में हैं। विशाल ने कहा कि उन्होंने पहले एक बार कोशिश की थी और एक चुनाव के लिए नामांकन भरा था लेकिन जिस तरह से उनके नॉमिनेशन को रिजेक्ट किया गया उससे वह बुरी तरह निराश हुए। विशाल ने कहा जब देश में नेता अभिनय कर रहे हैं, तो अभिनेता राजनीति के लिए आगे आएं तो इसमें हर्ज की बात क्या है। विशाल ने कहा कि तमिलनाडु में होने वाले चुनाव राज्य के लिए गेमचेंजर साबित होंगे। विशाल के मुताबिक रजनीकांत और कमल हसन का कदम सही दिशा में है।

प्रकाश राज ने कहा कि रजनीकांत और कमल हासन समेत विशाल को एक साथ राजनीतिक सफर पर निकलने की जरूरत है, क्योंकि तीनों के सामने लक्ष्य एक ही है। प्रकाश के मुताबिक तमिलनाडु में बदलाव की लहर है और ऐसे में कोई भी नेता जीत सकता है। इसी सत्र के दौरान कांचा इलह्या ने कहा कि ट्रिपल तलाक मामला एक मुस्लिम महिला लेकर कोर्ट पहुंची और भाजपा सरकार ने उसका समर्थन किया। लेकिन मंदिर में महिलाओं की एंट्री के मामले को जब एक हिंदू महिला लेकर कोर्ट जाती है तो यही भाजपा चुप रहती है। आखिर भाजपा हिंदू महिलाओं के अधिकार पर चुप क्यों है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper