राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने बसंत पंचमी पर दी राष्ट्र को बधाई

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को बसंती पंचमी और सरस्वती पूजा के अवसर पर देशवासियों को बधाई दी। राष्ट्रपति ने अपने ट्वीट में कहा, ” हमारे सभी साथी नागरिकों को शुभकामनाएं..यह त्योहार, जो सीखने का उत्सव है, हमारे देश, हमारे समाज और हमारे परिवार में शिक्षा और ज्ञान की वृद्धि करने के लिए प्रोत्साहित करे।”

मोदी ने इस पावन अवसर पर खुशहाल समाज के लिए प्रार्थना की। उन्होंने ट्वीट किया, “बंसती पंचमी की शुभकामनाएं। मैं प्रार्थना करता हूं कि यह पावन अवसर हमारे समाज में और ज्यादा सौहार्द लाए। मां सरस्वती का आशीर्वाद हमारे साथ सदैव रहे और हमें ज्ञान प्रदान करें।”

इसे भी पढ़िए: ‘द लखनऊ ट्रिब्यून’ के ग्राहक बने दिलीप श्रीवास्तव ‘यशवर्धन’, उपहार में मिला ज्ञान घी

राहुल गांधी ने ट्वीट कर सभी देशवासियों को बसंत पंचमी की शुभकामनाएं दी। कई अन्य राजनेताओं ने भी ट्विटर के जरिए राष्ट्र को बसंत पंचमी की बधाई दी। केंद्री गृह मंत्री राजनमाथ सिंह ने कहा, “बंसत पंचमी के अवसर पर आप सबको हार्दिक शुभकामनाएं। मां सरस्वती सबको ज्ञान और बुद्धि का आशीर्वाद दें।”

उन्होंने कहा, “इस पावन पर्व पर मैं सुरक्षित, शांतिपूर्ण, समृद्ध भारत के लिए प्रार्थना करता हूं।” बसंत पंचमी का त्योहार बसंत के आगमन को दर्शाता है। यह पूरे भारत में विभिन्न तरीकों से मनाया जाता है। कई लोग देवी सरस्वती की पूजा कर ज्ञान व बुद्धि का आशीर्वाद लेते हैं। कई श्रद्धालु उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में त्रिवेणी संगम में डुबकी लगाते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper