देश में एक साथ चुनाव कराने पर राष्ट्रपति का जोर, जानिए अभिभाषण की मुख्य बातें

द लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो : संसद भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत हो गई। कोविंद ने अपने अभिभाषण के दौरान सरकार की नीतियों और योजनाओं का जिक्र करते हुए कई अहम उपलब्धियां गिनाईं। तीन तलाक बिल पर उन्होंने कहा कि इसे पास कराना चाहिए। यह मुस्लिम महिलाओं के हित में है।

राष्ट्रपति ने इशारा देते हुए कहा कि देश में एक साथ चुनाव होने चाहिए और ऐसा माना जा रहा है कि राजस्थान और मध्य प्रदेश के साथ आम चुनाव हो सकते हैं। गौरतलब है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस बार बग्घी से नहीं, बल्कि कार से संसद पहुंचे। केंद्र सरकार एक फरवरी को संसद में देश का आम बजट पेश करेगी। इस सत्र में बजट के अलावा तीन तलाक समेत कई अहम बिलों पर चर्चा होगी। आइए नजर डालते हैं अभिभाषण की खास बातों पर…

– तीन तलाक बिल मुस्लिम महिलाओं के हित में है और उम्मीद है कि ये संसद में पास होगा।

– आजादी के बाद पहली बार पुरुष रिश्तेदारों के बिना, 45 साल से ज्यादा आयु की महिलाओं के हज पर जाने की पाबंदी हटा दी गई है। इस वर्ष 1,3०० से ज्यादा महिलाएं बिना मेहरम के हज पर जा रही हैं।

– आधार ने गरीबों को अधिकार दिलाने में आधार का बड़ा योगदान दिया है।

– कोविंद ने कहा कि किसानों की आय को 2०22 तक दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। किसानों को उनकी पैदावार की उचित कीमत मिल सके, इसके लिए देश की कृषि मंडियों को ऑनलाइन जोड़ने का कार्य जारी है।

– प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों के माध्यम से गरीबों को 8०० तरह की दवाइयां सस्ती दरों पर दी जा रही हैं। इन केंद्रों की संख्या तीन हजार के पार पहुंच चुकी है।

– राष्ट्रपति ने कहा कि हमारा दायित्व है कि 2०19 तक देश को पूरी तरह से स्वच्छ बनाकर पूज्य बापू के प्रति सच्ची श्रद्धा व्यक्त करें।

– कोविंद ने कहा कि लगभग 3 करोड़ लोग ऐसे हैं, जिन्होंने पहली बार मुद्रा योजना का लाभ उठाया और स्वरोजगार शुरू करने में सफल हुए।

– राष्ट्रपति ने कहा कि किसानों की समृद्धि के लिए डेयरी में ध्यान दिया जा रहा है। यूरिया का उत्पादन बढ़ने के साथ 1०० प्रतिशत नीम कोटेड यूरिया का प्रयोग किया जा रहा है।

– प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को सस्ता फसल बीमा दिया जा रहा है। मेरी सरकार ने गरीबों को एक रुपए प्रति माह से बीमा योजना उपलब्ध कराई है।

– मेरी सरकार देश में स्कूली और उच्च शिक्षा को मजबूत कराने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार इंस्टीट्यूट ऑफ इमिनेंस बनाने पर काम कर रही है। आईआईएम को स्वायत्तता देने के लिए भी कानून बनाया गया है।

– मेरी सरकार तुष्टीकरण नहीं सशक्तिकरण के साथ अल्पसंख्यकों के लिए काम कर रही है। मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैन समाज के लोगों के रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं।

– देश में एलईडी बल्ब्स की बिक्री की जा रही है। इससे पर्यावरण की रक्षा के साथ प्रतिवर्ष 1० हजार करोड़ यूनिट बिजली की बचत हो रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper