राहुल ने किया नीतीश पर हमला, कहा- क्या यही है नशामुक्त बिहार

दिल्ली ब्यूरो : बिहार, मुजफ्फरपुर के धर्मपुर  स्कूल परिसर में बेकाबू बोलेरो से कुचलकर 9 बच्चों की हुई मौत  मामले में अब सियासी खेल शुरू हो गया है। इस मामले में राजद नेता तेजस्वी यादव जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल पूछ रहे है वही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट के जरिए नीतीश कुमार पर हमला किया है।
राहुल गाँधी का यह हमला शराब के बहाने नीतीश कुमार को निशाने पर लेने के रूप में देखा जा रहा है। ट्वीट के जरिए राहुल ने सीएम नीतीश कुमार से पूछा है कि क्या यही बिहार में शराबबंदी की सच्चाई है कि प्रतिबंध के बावजूद शराब के नशे में धुत बीजेपी नेता 9 मासूम बच्चों की जान ले लेता है। और सरकार बीजेपी नेता के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर पा रही है।
गौरतलब है कि राहुल ने अपने ट्वीट  में कहा कि ‘नशामुक्त बिहार’ में नशे में धुत एक बीजेपी नेता ने 9 मासूम बच्चों को मार दिया! नीतीशजी क्या यही है आपकी शराबबंदी की सच्चाई? आपकी अंतरात्मा की आवाज आज किसे बचा रही है, आरोपी बीजेपी नेता को या बिहार में शराब की सच्चाई को? राहुल के इस ट्वीट के बाद सियासत शुरू हो गयी।
उधर  तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया था कि नौ मासूम बच्चों को कुचलने वाले हत्यारे बीजेपी नेता को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के सीधे संरक्षण के चलते गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। उधर, सत्तारूढ़ जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने दावा किया कि आरोपी पाताल में भी होगा तो उसे पकड़कर जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार विधायक और सांसद को तो छोड़ती ही नहीं है, यह तो एक पदधारी हैं। नीरज ने कहा कि जो भी होगा वह कानून के मुताबिक होगा। हमारी सरकार न किसी को फंसाती है और न ही बचाती है। आपको बता दें कि सोमवार को हादसे के आरोपी बीजेपी नेता मनोज बैठा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई। इसके साथ ही पुलिस अब मनोज की गिरफ्तारी में जुट गई है।
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper