राहुल जी ! संसद में आपसे ज्यादा सवाल तो हेमा मालिनी पूछती हैं

दिल्ली ब्यूरो : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बाहर खूब बोलते हैं लेकिन संसद में वे सवाल नहीं करते। संसद में राहुल गांधी से ज्यादा हेमा मालिनी सवाल करती है और जनता के प्रति संवेदनशील दिखती है। हालांकि इस तरह की बानगी केवल राहुल गांधी के साथ ही नहीं है। बहुत से ऐसे नेता है जो चुनाव जीतकर संसद तक तो पहुँच जाते हैं लेकिन वहाँ बोल नहीं पाते।
मामला केवल बोलने तक का ही नहीं है। बहुतेरे संसद संसद में अनुपस्थित रहने में भी मास्टरी हासिल किये हुए हैं। जब वेतन बढ़ोतरी और भत्ते में इजाफा करने की बात आती है तो तमाम सांसद इस मसले पर सामवेद गान करने से नहीं चूकते लेकिन जनता से जुड़े सवाल पूछने और संसद में उपस्थित रहने में सबसे पीछे रहते हैं। इसी तरह की कहानी राज्यों के विधान सभाओं की भी है।
देश के सांसदों-विधायकों पर नजर रखने वाली संस्था पीआरएस ने कुछ आकड़े पेश किए हैं जिनके मुताबिक कई सासंदों की संसद में उपस्थिति का राष्ट्रीय औसत 80 प्रतिशत और बहस में हिस्सा लेने का 57.5 और सवाल पूछने की सक्रियता केवल 231 प्रति सांसद रहा। हालांकि आकड़ों के मुताबिक सोनिया गांधी संसद में काफी सक्रिय रहीं। संसद में उनकी अटेंडेंस 71% रही। वहीं इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी फिसड्डी साबित हुए। 47 वर्षीय राहुल गांधी की संसद में 54 प्रतिशत उपस्थिति रही। इतना ही नहीं उन्होंने अब तक सिर्फ 11 बहसों में ही हिस्सा लिया।
राहुल ने चार सालों में एक भी सवाल नहीं पूछा। हालांकि देश के हर सांसद पर औसतन 231 सवाल का आंकड़ा बैठता है। राहुल ने आजतक एक भी गैर सरकारी विधेयक भी पेश नहीं किया। राहुल के अलावा सपा सांसद और अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव भी इस मामले में पीछे नहीं हैं। डिंपल ने चार सालों में बस दो डिबेट में हिस्सा लिया जबकि उन्होंने भी आज तक एक सवाल नहीं पूछा। मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी की संसद में मौजूदगी महज 40 प्रतिशत रही। हालांकि उन्होंने 16 बहसों में हिस्सा लिया और 188 सवाल पूछे। सवाल पूछने में उनका रिकॉर्ड अच्छा रहा है।
इन आंकड़ों से पता चलता है कि जनता के मसलों से अधिकतर सांसदों का कोई लेना देना नहीं। अब जब फिर से चुनाव नजदीक आ रहे हैं सांसद फिर से अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए जनता कीच गिरगिराते नजर आने लगे हैं।
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper