यूपी में मुठभेड़ो से अपराधी और सपाई घबराए : राकेश त्रिपाठी

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने एनकाउण्टर में खूंखार अपराधियों के मारे जाने पर सपा नेताओं की पीड़ा को वाजिब बताया। उन्होंने कहा कि सपा शासनकाल में गुण्डों अपराधियों को संरक्षण प्राप्त था। पुलिस पर गोली चलाने में भी अपराधी घबराते नहीं थे। लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कठोर इच्छाशक्ति के चलते आज परिस्थितियां बदली है।

अपराधियों पर पुलिस का कठोर शिकंजा कस रहा है। ईनामी अपराधियों की गिरफ्तारी हो रही है और जो अपराधी पुलिस पर गोली चलाने का दुस्साहस कर रहे है आज पुलिस उसी भाषा में उन्हें जवाब दे रही है। जिन अपराधियों का खौफ जन-मन में था आज उन गुण्डों के मन में पुलिस का खौफ दिख रहा है। अपराधी आत्मसमर्पण कर रहे है।

श्री त्रिपाठी ने कहा कि पिछली अखिलेश सरकार में उत्तर प्रदेश में अवैध असलहों की फैक्ट्रियां कुकुरमुत्ते की तरह उग गई थी। योगी सरकार आने के बाद 156 अवैध असलहा फैक्ट्रियां बंद कर हजारों अवैध असलहा-बमों की बरामदगी हुई है। समाजवादी पार्टी के नेता अपराध और अपराधियों पर प्रभावी कार्यवाई से घबरा गए है। घबराहट छुपाने के लिए सपा नेता सदन में हल्ला बोल रहे हैं।

सीबीआई के दुरूपयोग के तमाम आरोप लगाने वाले सपाई नेता मुठभेंड़ो की सीबीआई जांच की मांग कर रहे है। सपा अपने समय में पले-बढ़े उद्योग पर हो रही कार्यवाही से हताश-निराश है। सपा को अपराधियों पर हो रही कार्यवाही से पीड़ा हो रही है। भाजपा सरकार जनता की पीड़ा को दूर करने के लिए संकल्पित है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper