मेरठ में संघ समागम तो कर्नाटक में राजनीतिक हमलेबाजी

दिल्ली ब्यूरो : आसन्न विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजनीतिक तैयारी अपने पुरे शबाब पर है। मेरठ में जहां संघ समागम हो रहा है वहीँ राज्य कर्नाटक में बीजेपी -कांग्रेस एक-दूसरे पर वार करते दिख रही है। राहुल गाँधी पीएम मोदी पर वाण चला रहे हैं तो अमित शाह वाण को काटकर महावाण से राहुल गाँधी को धूसरित कर रहे हैं। बड़ा ही मोहक नजारा है।

पहले मेरठ की बात। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा स्वयं सेवक समागम रविवार सुबह से मेरठ में शुरू हुआ। पूरा मेरठ केसरिया रंग में रंगा हुआ है। शहर से लेकर गाँव तक भगवा ध्वज लहर रहा है। मेरठ की शोभा देखने वाली है। कई पडोसी राज्यों से स्वयं सेवक पहुँच गए हैं। माना जा रहा है कि करीब तीन लाख स्वयं सेवक इस समागम में शिरकत कर रहे हैं। समागम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि सृष्टि के रंग अलग-अलग हैं लेकिन रूप एक ही है।

उन्होंने कहा कि हम वसुधैव कुटुम्बकम का मंत्र लेकर चलने वाले लोग हैं। उन्होंने कहा कि समाज के उत्थान के लिए और उसके विकास के लिए हर समुदाय के लोगों को स्वयंसेवक बनने की जरूरत है। इस मौके पर विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह, विधायक पंकज सिंह और उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री चेतन चौहान भी आरएसएस समागम में पहुंचे हैं।

माना जा रहा है कि इस समागम का मकसद 2019 के आम चुनावों के लिए जनता की नब्ज टटोलना है। बीजेपी को 2014 में सर्वाधिक 73 लोकसभा सीटें उत्तर प्रदेश से ही मिली थीं। इसमें भी पश्चिमी उत्तर प्रदेश से बीजेपी को सबसे ज्यादा सीटें हाथ लगी थीं। आरएसएस और बीजेपी का मकसद आगामी चुनावों में युवा मतदाताओं को लुभाना है।

उधर कर्नाटक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि किसानों और मजदूरों की जेबों से पैसा निकलकर उद्योगपतियों की जेबों में जा रहा है। राहुल गांधी के आरोपों पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का जवाब आया। अमित शाह ने कर्नाटक में कहा कि राहुल गांधी झूठ बोल रहे हैं। एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा- ”पैसा किसानों, मजदूरों की जेब से निकलकर 10 उद्योगपतियों की जेब में जा रहा है। आपने देश के 10 सबसे अमीर उद्योगपतियों का लोन माफ किया, मोदी जी क्या आप हिन्दुस्तान के किसानों का लोन माफ करोगे?

कोई जवाब नहीं मिला।” इस पर अमित शाह ने भी एक सभा में पलटवार करते हुए कहा- ”हमने किसी भी उद्योगपति का कोई भी कर्ज माफ नहीं किया है, राहुल गांधी झूठ बोल रहे हैं।” बता दें कि राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सरकार को किसानों, रोजगार और कालाधन जैसे अहम मुद्दों पर घेर रहे हैं।

आपको बता दें कि कर्नाटक में इसी साल अप्रैल-मई में राज्य की 224 सीटों के लिए विधानसभा चुनाव होने हैं। राज्य में कांग्रेस की सरकार है। चुनावों को नजदीक देखते हुए दोनों दल कांग्रेस और भाजपा मतदाताओं को लुभाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं। पिछले दिनों राहुल गांधी को कर्नाटक के मंदिर और दरगाह की यात्रा करते हुए भी देखा गया था। वहीं बीजेपी ने राज्य में परिवर्तन यात्रा निकाली थी। परिवर्तन यात्रा के समापन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा के लिए वोट मांगें थे। उन्होंने कहा था कि येदियुरप्पा किसान के बेटे हैं, इसलिए वह किसानों का भला करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper