SBI में इस साल होगी बंपर भर्ती, 14 हजार से अधिक पोस्ट के लिए निकाली जाएगी Vacancy

नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक (SBI) इस साल बंपर भर्तीयां करने वाला है। SBI ने बताया कि, इस साल वह 14 हजार नियुक्तियां करने की योजना बना रहा है। बयान में SBI ने आगे कहा कि, वर्तमान में देशभर में हमारे 2.50 लाख के करीब कर्मचारी हैं। बैंक अपने कर्मचारियों की जरूरतों को पूरा करने और उनके जीवनकाल में मदद के लिए हमेशा आगे रहता है। यह खबर ऐसे समय में आई है, जब SBI द्वारा ऑन टेप वीआरएस (On Tap VRS) योजना लाने की चर्चा हो रही है।

हालांकि SBI ने इस बात पर जोर दिया कि, वह परिचालन का विस्तार कर रहा है और उसे लोगों की आवश्यकता है। बैंक ने इसके साथ-साथ यह भी कहा कि, VRS की योजना बैंक की लागत में कटौती करने के लिए नहीं है। बैंक ने अपने कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना तैयार की है, जिसके दायरे में करीब 30,190 कर्मचारी आ सकते हैं।

बयान में कहा गया, बैंक हमेशा से कर्मचारियों के प्रति दोस्ताना नजरिया रखता आया है और वह अपने कारोबार का विस्तार कर रहा है। इसके लिए लोगों की आवश्यकता होगी। यह इस बात से साबित होता है कि बैंक की इस साल 14,000 से अधिक कर्मचारियों की नियुक्ति करने की योजना है।

बता दें कि SBI की VRS योजना के ड्राफ्ट के मुताबिक ‘VRS- 2020 योजना’ के तहत बैंक में 25 साल की सेवा अथवा 55 साल की आयु पूरी कर चुके सभी स्थायी अधिकारी और स्टाफ कर्मचारियों के लिए यह खुली होगी। बता दें कि कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने बैंक की प्रस्तावित VRS की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि, मौजूदा संकट के दौर में यदि देश का सबसे बड़ा बैंक यदि नौकरियों में कटौती करता है तो इसका अंदाजा लगाया जा सकता है कि, अन्य बड़े नियोक्ता और एमएसएमई क्या कर रहे होंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper