बिहार में फिर आसमानी बिजली ने बरपाया कहर, पांच जिलों में 25 लोगों ने गंवाई जान

पटना: बिहार में एक बार फिर आकाशीय बिजली के कारण अलग-अलग जिलों में 25 लोगों की मौत हो गई है। इनमें पटना में 9, समस्तीपुर में 8, पूर्वी चंपारण में 4, शिवहर और कटिहार में 2-2 लोगों की मौत हुई है। हालांकि आधिकारिक आंकड़ों में अभी 14 लोगों की मौत की पुष्टि की गई है। आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार पटना जिला में 5 जबकि मोतिहारी में 4, शिवहर में 2 और समस्तीपुर में 2 लोगों की मौत हुई है।

मौसम विभाग की तरफ से चेतावनी दी गई है कि मेघगर्जन के साथ हो रही बारिश के वक्त घर से बाहर ना निकलें। खेतो में काम करनेवाले किसानों के लिए खासतौर से चेतावनी जारी की गई है। मौसम विज्ञान केंद्र ने आज बिहार के मधुबनी, दरभंगा, गोपालगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर सहित कई जिलों में बारिश के साथ वज्रपात का अलर्ट जारी किया है। बता दें कि अभी मानसून का टर्फ बिहार में भागलपुर से होकर गुजर रहा है, इन इलाकों में भी भारी बारिश की आशंका है।

इससे पहले बिहार में हुए वज्रपात से अलग अलग जिलों में 83 लोगों की मौत हो गई थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वज्रपात से राज्य में लोगों की मृत्यु पर दुख व्यक्त किया था। साथ ही, मृतकों के आश्रितों को तत्काल चार-चार लाख रुपए अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया था। वज्रपात से गोपालगंज में 13, पूर्वी चंपारण में पांच, सीवान में छह, दरभंगा में पांच, बांका में पांच, भागलपुर में छह, खगड़िया में तीन, मधुबनी में आठ, पश्चिम चंपारण में दो, समस्तीपुर में एक, शिवहर में एक, किशनगंज में दो, सारण में एक, जहानाबाद में दो, सीतामढ़ी में एक, जमुई में दो, नवादा में आठ, पूर्णिया में दो, सुपौल में दो, औरंगाबाद में तीन, बक्सर में दो, मधेपुरा में एक और कैमूर में दो लोगों की मृत्यु हुई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper