सोनिया की ‘डिनर डिप्लोमेसी’, 13 मार्च को फिर होगी मोदी विरोधी विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश

द लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो : पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सभी विपक्षी दलों के नेताओं को 13 मार्च को डिनर पर आमंत्रित किया है। हाल में हुए उत्तर पूर्व के तीन राज्यों में कांग्रेस की हार के बाद उनके इस निमंत्रण को भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों की खेम बंदी से जोड़कर देखा जा रहा है। कहा जा रहा है कि सोनिया ने यह कदम सरकार पर हमला बोलने, विपक्ष की एकजुटता और अगले लोकसभा चुनाव के लिए संयुक्त मोर्चे की नींव रखने के लिए उठाया है। बता दें कि हाल में आंध्र के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने इस मामले में राष्ट्रीय स्तर पर विचार-विमर्श का प्रस्ताव दिया था।

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, पार्टी एनडीए के घटक दलों से संपर्क कर रही है और उन दलों से संपर्क में है, जो एनडीए व यूपीए का हिस्सा नहीं हैं। सूत्रों के मुताबिक, सोनिया गांधी ने राजनीतिक पार्टियों के प्रमुखों को फोन कर खुद इस डिनर के लिए आमंत्रित किया है। इतना ही नहीं, उनके मैजेनर भी दूसरे दलों के संपर्क में हैं। इस साल और भी राज्यो में विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में सोनिया गांधी विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश में हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper