धर्म परिवर्तन की घटनाओं के खिलाफ याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट केरल की एक महिला की दक्षिण भारत में धर्म परिवर्तन की घटनाओं के खिलाफ दायर एक याचिका पर सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। कोर्ट ने याचिका में सुधार कर दोबारा याचिका दायर करने का निर्देश दिया है।

याचिका बिंदु संपत ने दायर की है। याचिका में कहा गया है कि उसकी बेटी का आईएसआईएस में शामिल होने से पहले धर्म परिवर्तन किया गया। बिंदु संपत ने पूरे मामले की एनआईए से जांच कराये जाने की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि लव जिहाद के जरिये उसकी बेटी का जबरन धर्म परिवर्तन किया गया। बाद में उसे अफगानिस्तान में आईएसआईएस में शामिल होने का लालच दिया गया। महिला ने याचिका में कहा है कि जब उनकी बेटी डेंटल कॉलेज में पढ़ रही थी तब उसे इसका शिकार बनाया गया।

केरल के ही एक और मामले में हदिया उर्फ अखिला के मामले की सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए केरल को अपने पति शफीन जहां के साथ जाने की इजाजत दे दी थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper