UPSC Result 2018: महिलाओं में 23 साल की सृष्टि तो पुरुषों में कनिष्क कटारिया बने टॉपर

नई दिल्ली: संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की ओर से सिविल सेवा की फाइनल परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है। यूपीएससी की ओर से जारी किए गए नतीजों में आईआईटी बंबई से बीटेक की पढ़ाई करने वाले कनिष्क कटारिया ने सिविल सेवा 2018 की फाइनल परीक्षा में शीर्ष स्थान हासिल किया है, वहीं सृष्टि जयंत देशमुख महिला अभ्यार्थियों में शीर्ष पर रही हैं और सम्मिलित सूची में वह पांचवें स्थान पर रही हैं।

यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाले कनिष्क कटारिया आईआईटी बॉम्बे के प्लेसमेंट सेल के सदस्य हैं और डाटा साइंटिस्ट के तौर पर जॉब भी कर रहे हैं। वह आईएएस सांवरमल वर्मा के बेटे हैं। आईएएस अधिकारी बनने वाले वह परिवार के तीसरे सदस्य हैं। पिता के अतिरिक्त उनके चाचा भी आईएएस अधिकारी हैं। कटारिया अनुसूचित जाति से हैं और उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में गणित लिया था। उन्होंने कंप्यूटर साइंस में बी.टेक किया है।

टॉपर कनिष्क ने कहा कि उन्होंने यह नहीं सोचा था कि वह टॉप करेंगे। उन्होंने अपनी सफलता के लिए परिवार के साथ अपनी गर्लफ्रैंड को श्रेय दिया। कनिष्क ने पहली बार में ही न केवल परीक्षा पास की बल्कि टॉप करके सभी को आश्चर्य में डाल दिया है। वह कहते हैं कि जॉब करने से संतुष्टि नहीं मिलती। सिर्फ पैसा ही कमाना मेरा उद्देश्य कभी नहीं रहा।

इसी कारण मैंने सिविल परीक्षा दी ताकि देश की सेवा कर सकूं। इसी कारण सैमसंग की नौकरी छोड़कर कोरिया से जयपुर आ गया। यहां दो साल तक जमकर पढ़ाई शुरू की। एक दोस्त ने पहले प्रयास में आईएएस में 24 वीं रैंक हासिल की थी, तब विश्वास जगा था कि मेहनत करके पहली बार में आईएएस की परीक्षा पास की जा सकती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper