मोदी सरकार पर बरसे अन्ना हजारे, जानिये क्या कहा

द लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो : अन्ना हजारे ने सोमवार (26 फ़रवरी) को कहा कि अब 2011 के आंदोलन की तर्ज पर एक बार फिर बड़ा आंदोलन होगा। हमारे देश में सरकार गिरने से डरती है। आंदोलन से नहीं डरती।आप सभी लोगों में अंदर गिराने की शक्ति है। उन्होंने मोदी सरकार पर लोकतंत्र के आंदोलन को कमजोर करने का आरोप लगाया है। उनका मानना है कि अब जनता के सेवक ही मालिक बन गए हैं।
पारा क्षेत्र के पारा सदरौना में अन्ना हजारे ने कहा कि देश में 26 जनवरी 1950 से जनतंत्र आ गया। आप लोगों को पता होगा कि सरकारी तिजोरी आम लोग की है। अन्ना हजारे ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार सिर्फ आश्वासन की सरकार है। अभी तक देश के किसी भी नागरिक के खाता में 15 लाख रुपया नहीं आया है। इस बार तो हमारा आंदोलन आश्वासन से खत्म नहीं होगा। यहां पर नेता, मंत्री व अधिकारी आपके सेवक है, लेकिन अब तो सभी सेवक यहां पर मालिक हो गए है। उन्होंने कहा कि संघर्ष से लोकतंत्र मजबूत होता है। अंग्रेज देश से चले गए लेकिन काले अंग्रेज अभी भी है। जनता की सेवा ही पूजा है। अन्ना ने कहा कि अब 2011 के आंदोलन की तर्ज पर एक बार फिर बड़ा आंदोलन होगा। हमारे देश में सरकार गिरने से डरती है। आंदोलन से नहीं डरती। आप सभी लोगों में अंदर गिराने की शक्ति है। महाराष्ट्र में दो सरकार गिर गई। अन्ना हजारे ने बताया कि इस बार 23 मार्च को दिल्ली में आंदोलन होगा। 23 मार्च को शहिदी दिवस के दिन आंदोलन होगा। हमारा यह बड़ा आंदोलन किसानों के लिए होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper