बवाना कांड के लिए आखिर कौन जिम्मेदार?

नईं दिल्ली। दिल्ली के बवाना में आग से झुलसकर 17 लोगों की मौत ने सवाल खड़ा कर दिया है कि वैसे इतना बड़ा हादसा हो गया। साथ ही चर्चा इस बात को लेकर भी है कि आखिर घटना के प्रति जवाबदेही किसकी है। ऐसा इसलिए क्योंकि दिल्ली में सरकार आम आदमी पाटा की है और नगर निगम पर बीजेपी का राज है। ऐसे में प्राथमिक तौर पर जो लापरवाही सामने आ रही हैं, उसके लिए कौन जिम्मेदार है, फिलहाल ये बहस का विषय है।

पुलिस ने इस मामले में फैक्ट्री मालिक की गिरफ्तारी की है। साथ ही पुलिस ने अपनी तफ्तीश जारी कर दी है। पुलिस फिलहाल बवाना इलाके में पैक्ट्री नियमों के आधार पर जांच आगे बढ़ा रही है। इसमें वुछ अहम बातें सामने आईं हैं। दरअसल, दिल्ली के शहादरा इलाके में मौजूद अवैध पैक्ट्रियों को बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में शिफ्ट किया गया था। इसके लिए दिल्ली राज्य औदृाोगिक एवं इंप्रास्ट्रक्चर विकास निगम यानी डीएसआईंडीसी ने करीब 10 हजार पैक्ट्रियों को बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में जमीन मुहैया कराईं थी। ये जमीन शीला सरकार के दौरान दी गईं थीं।

इसे भी पढ़िए:  अहमदाबाद बम धमाकों का मास्टर माइंड अब्दुल सुभान कुरैशी गिरफ्तार

एमसीडी दिल्ली सरकार के अधीन आता है, लेकिन जिन पैक्ट्री मालिकों को जमीनें दी गईं थीं, उन्हें पैक्ट्री चलाने के लिए नगर निगम से लाइसेंस लेना होता है और एमसीडी पर लंबे समय से बीजेपी का शासन चलता आ रहा है।एमसीडी से पैक्ट्री मालिकों को 2 लाइसेंस लेने होते हैं। पहला लाइसेंस नियमों के मुताबिक बिाल्डग निर्माण के लिए लेना होता है।

लेकिन ऐसा नहीं किया गया। इसे लेकर ललित गोयल की भूमिका की पुलिस जांच कर रही है।दूसरा लाइसेंस पैक्ट्री चलाने के लिए लेना होता है। लेकिन पुलिस की गिरफ्त में मौजूद पैक्ट्री मालिक मनोज जैन ने अपने बयान में बताया है कि कोल्ड क्रैकर फैक्ट्री (जैसे स्टेज पटाखे) चलाने के लिए किसी लाइसेंस की जरूरत नहीं थी। लाइसेंस प्रािया में उल्लंघन के अलावा जांच में ये भी पता चला है कि फैक्टी मालिक ने फायर एनओसी भी नहीं ली थी।

फिलहाल, दिल्ली सरकार ने भी मामले की जांच के आदेश दिए हैं। आम आदमी पाटा हादसे के लिए बीजेपी और एमसीडी को जिम्मेदार बता रही है, जबकि बीजेपी सीधे तौर पर दिल्ली की अरविद केजरीवाल को जवाबदेह बता रही है। दोनों परटियों के बीच आरोपप ्रत्यारोप का दौर भी चल रहा है। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि 17 बेकसूर जिदगियों का जिम्मेदार आखिर कौन है?

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper