योगी सरकार के एक साल पूरे, सीएम ने गिनाईं अपनी उपलब्धियां

लखनऊ: 19 मार्च को प्रदेश की योगी सरकार के एक साल पूरे हो गये। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को संबोधित करते हुए सरकार की एक साल की उपलब्धियां गिनाईं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ई- संवाद नामक पोर्टल को लॉन्च किया। इसके अलावा एक साल नई मिसाल पुस्तक का विमोचन भी किया।

सीएम योगी ने कहा कि ठीक एक वर्ष पूर्व हमारी सरकार ने शपथ ग्रहण की थी। हमने यूपी में परिवर्तन और विकास के साथ-साथ सरकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया है। इसके बाद सीएम योगी ने यहाँ भी कहा कि किसी भी लोकतांत्रिक सरकार के मूल्यांकन के लिए एक वर्ष पर्याप्त नहीं और खासतौर से यूपी में जहां जंगलराज था, भ्रष्टाचार था। लेकिन हमने टीम स्पिरिट से काम किया।

योगी सरकार के एक साल

प्रदेश की जनता का आभार जताते हुए सीएम योगी ने कहा कि यूपी की जनता ने आदरणीय प्रधानमंत्री के साथ जुड़कर बीजेपी और सहयोगी दलों को प्रचंड बहुमत देकर एक नई आशा के साथ सरकार बनाने में योगदान दिया था। पिछले एक साल से पहले यूपी में जंगलराज था। साथ ही यूपी की राजनीति जातिवाद और परिवारवाद में उलझी हुई थी। इससे प्रदेश को मुक्ति मिली है। अपनी सरकार की शुरुआती उपलब्धियां गिनाते हुए योगी ने कहा- हमने पहली कैबिनेट बैठक में किसानों के कर्ज को माफ करने का फैसला लिया। एक साल पहले भय का माहौल था। निवेश नहीं हो रहा था, गन्ना किसान का भुगतान नहीं हो रहा था। हमने ये भी किया। उन्होंने आगे कहा कि यूपी सरकार पहली ऐसी सरकार है देश में जिसने 80 हजार करोड़ किसानों को भुगतान किए।

योगी सरकार के एक साल

अपने भाषण के दौरान के सीएम योगी ने एक नई घोषणा करते हुए कहा कि आज से हम पूरे प्रदेश में एन्टी करप्शन पोर्टल लांच कर रहे हैं। जहां हर तरह के करप्शन की शिकायत होगी। यूपी की कानून-व्यवस्था पुलिस बल की कमी के बावजूद मिसाल कायम कर रही है। मैं कहना चाहता हूं कि एक बंदर ने पूरी लंका जला डाली थी और मैं विश्वास दिलाता हूं कि एक बंदर प्रदेश से गुंडाराज और भ्रष्टाचार को मिटाएगा। प्रदेश की पूर्व सरकार पर हमला बोलते हुए योगी ने कहा-जब काम शुरू किया तो प्रदेश का खजाना खाली था। जो हमारे लिए बड़ी चुनौती थी। साथ ही बड़ी संख्या में सड़कें गड्ढायुक्त थीं और किसान आत्महत्या कर रहा था। निवेशक यहां नहीं आ रहा था और कारोबारी पलायन कर रहा था। भय का माहौल था। ऐसी स्थिति में हमने किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री के संकल्प को ध्यान में रखते हुए 86 लाख किसानों का 1 लाख तक कर्ज माफ करने का फैसला किया।

योगी सरकार के एक साल

योगी ने आगे कहा कि इस महीने हम 25000 करोड़ के एमओयू को लागू करेंगे जो इन्वेस्टर समिट में हमने किये और इतने ही अप्रैल में भी लागू करेंगे। योगी ने इस बात की भी घोषणा की कि इस साल उनकी सरकार 64 विभागों में 4 लाख नौकरियां लेकर आ रही है। किसान अब कहीं से भी मिट्टी ले सकता है खेती के लिए और इसकी कोई रॉयल्टी नही देनी होगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper