कोलकाता पहुंचे जेपी नड्डा- पार्टी में आपसी कलह खत्म कर 2024 लोकसभा चुनाव की तैयारी पर है फोकस

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल इकाई में व्याप्त कलह और गुटबाजी को खत्म कर सभी नेताओं को एकजुट कर 2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनावी अभियान में जुट जाने के लिए प्रेरित करने के लक्ष्य को लेकर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा कोलकाता पहुंचे हैं। नड्डा बुधवार को दोपहर 3 बजे दक्षिण कोलकाता की नेशनल लाइब्रेरी में पश्चिम बंगाल भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक का शुभारंभ करेंगे। पार्टी को एक साथ लाने, बूथ स्तर तक संगठन को मजबूत करने और राज्य की ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ पार्टी की लड़ाई की रणनीति बनाने के मदेदनजर इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

नड्डा पार्टी के विधायकों और अन्य नेताओं के साथ भी अलग-अलग बैठक कर राज्य में जारी घमासान को लेकर फीडबैक लेंगे। 9 जून, गुरुवार को वह सांसदों, विधायकों और राज्य पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और इसके अलावा जिला, मंडल एवं मोर्चा स्तर के कार्यकर्ता सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे। नड्डा एक नागरिक सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे।

2021 के विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने और विधानसभा में मुख्य विपक्षी दल बनने के बावजूद पार्टी संगठन में व्याप्त गुटबाजी कम होने का नाम नहीं ले रही है। पार्टी कार्यकतार्ओं, नेताओं यहां तक कि विधायक और सांसदों का भी पार्टी छोड़ने का सिलसिला लगातार जारी है। हाल ही में भाजपा के कद्दावर दबंग सांसद अर्जुन सिंह भी पार्टी का दामन छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। इन हालातों में नड्डा के पश्चिम बंगाल के दौरे को काफी उम्मीदों से देखा जा रहा है।

पिछले महीने पश्चिम बंगाल की यात्रा पर गए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी राज्य की ममता बनर्जी सरकार से मुकाबले के लिए पार्टी की प्रदेश इकाई को संगठन मजबूत करने की सलाह दी थी।

आईएएनएस से बात करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय सचिव अनुपम हाजरा ने कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष सभी पक्षों की बात को दिमाग में रखते हुए ही कदम आगे बढ़ाते है और इसलिए उन्हें उम्मीद है कि जेपी नड्डा का दौरा एक कैप्सूल की तरह काम करते हुए बंगाल भाजपा की सारी बीमारियों को जड़ से खत्म कर देगा।

आईएएनएस से बातचीत करते हुए भाजपा के एक अन्य दिग्गज नेता ने बताया कि पश्चिम बंगाल के राजनीतिक हालात और ममता बनर्जी के दमनकारी रवैये से सभी वाकिफ है। ऐसे हालात में यह जरूरी हो जाता है कि पार्टी के सभी नेता मिलकर राज्य सरकार के खिलाफ संघर्ष करें। भाजपा 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले संगठन की तमाम कमिंयों को दूरुस्त कर लेना चाहती है ताकि लोकसभा चुनाव में मिलकर टीएमसी को सबक सिखाया जा सके।

आपको बता दें कि , इससे पहले मंगलवार रात पश्चिम बंगाल के दौरे पर कोलकाता पहुंचे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का नेताजी सुभाषचंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जोरदार स्वागत किया गया। एयरपोर्ट पर पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार समेत राज्य भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने नड्डा का जोरदार स्वागत किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper