अगर पाना चाहते है बेदाग चेहरा तो घर पर बनाये देशी उबटन

नई दिल्ली: अगर आपका चेहरे ने ग्लो खो दिया है और वही ग्लो पाना चाहते है तो आप अपने चेहरे को सही ग्लो पाने के लिए आपके घर के किचन ने वो चीजों है जिससे आप अपने चेहरे को चमका सकते है। स्किन को खूबसूरत बनाने के लिए मार्केट में कई तरह के प्रोडक्ट्स मौजूद हैं।

ये प्रोडक्ट्स स्किन को ग्लोइंग बनाने, खूबसूरत दिखाने और दाग-धब्बे हटाने के कई सारे दावे करते हैं, लेकिन इन प्रोडक्ट्स को खरीदने में जेब पर अच्छा खासा वजन पड़ता है। कई बार तो स्किन के लिए पॉकेट से समझौता किया जा सकता है। पर हर बार ऐसा हो जरूरी नहीं है। क्या आप जानते हैं की इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने के बजाय आप किचन में इस्तेमाल होने वाली दो चीजों को मिलाकर उबटन बना सकते हैं। ये उबटन आपके चेहरे को चमका देगा।

चावल- हल्दी का ऐसे बनाये उबटन

हल्दी का पाउडर – 2 चम्मच
चावल का आटा – 2 चम्मच
टमाटर का जूस – 1 चम्मच
कच्चा दूध – 2 चम्मच

इन सभी चीजों को मिलाकर एक पेस्ट बनाइए। इस पेस्ट को बनाते वक्त ध्यान रहे कि किसी तरह का बुलबुला न पाए। साथ ही सभी चीजें अच्छे से मिक्स हो जाएं।

कैसे फायदेमंद है ये उबटन

चावल और हल्दी का ये उबटन त्वचा के लिए वरदान साबित हो सकता है। ये उबटन चेहरे पर लगाने से फोड़े फुंसी की समस्या हो सकती है। आयुर्वेद के अनुसार, चेहरे पर रेगुलर बेसिस पर हल्दी लगाने से झुर्रियों से छुटकारा मिलता है। हल्दी लगाने चेहरे पर ग्लो आता है।

गुनगुने पानी से धोएं चेहरा

जब पेस्ट तैयार हो जाए तो इस उबटन को चेहरे पर लगाइए। 30 मिनट के बाग इस उबटन को हल्के गुनगुने पानी से धो लीजिए। सप्ताह में दो या तीन बार इस उबटन का इस्तेमाल करने से पिंपल्स और मुंहासों की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। यह तरीका आपको पार्लर जाने से रोकेगा ये नुक्सा नानी का बताया हुआ हो सकता है लेकिन कारगर बहुत है। ये बाजार के क्रीमों से कही ज्यादा अच्छा साबित होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper