अनुराग मौर्य के नये सॉन्ग “गलियों वाला बनारस” को मिल रहा लोगों का भरपूर प्यार

मुंबई: महादेव की नगरी बनारस वैसे तो हमेशा से ही अपने अनूठे कला संस्कृति ,भाषा शैली व विभिन्न खान पान के लिए मशहूर रहा है, लेकिन इन दिनों एक गाने “गलियों वाला बनारस” की वजह से भी यह सहर चर्चा का विषय बना हुआ है।

गायक अनुराग मौर्य की आवाज़ में “गालियों वाला बनारस” गाना सोशल मीडिया पर धूम मचा रहा है। इस गाने में अनुराग मौर्य और एक्ट्रेस संगीता मीना की अच्छी केमिस्ट्री देखते ही बनती है। दोनों वाराणसी के घाटों पर घूमते और गंगा में नाव में सवारी करते नजर आ रहे हैं। साथ ही बनारस की गलियों में दोनों की जुगलबंदी देखने लायक है। इस गाने को एलिगेंट आई म्यूजिक ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर लॉन्च किया है।

इस गाने का इंतजार फैंस को बेसब्री से था। अब जब यह गाना रिलीज हो गया है, तो फैंस का उत्साह देखने लायक है। रिलीज के 2 दिनों  के अंदर ही “गलियों वाला बनारस” गाने को 1 मिलियन  से ज्यादा व्यूज भी मिल गए है। ये व्यूज लगातार बढ़ रहे हैं। यह संगीत वीडियो ऐसा महसूस कराता है जैसे आप बनारस का भ्रमण कर रहे हैं। इस संगीत वीडियो को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत करने वाले सभी क्रू सदस्यों भी विशेष सराहना के हकदार हैं।

“गालियों वाला बनारस” जितेंद्र सिंह तंवर द्वारा निर्मित और विमलेश्वर प्रसाद द्वारा निर्देशित किया गया है। उन्होंने वीडियो में जिस तरह की नेचुरल केमिस्ट्री जाहिर की है वह दिल को छू जाती है। अनुराग मौर्य ने इस गाने में सुरीली आवाज़ दी है। वहीं, गीत ज़ुहैब खान द्वारा लिखे गए हैं और उर्मिला वरु ने इसे संगीतबद्ध किया है जो सुनने में बहुत कर्णप्रिय लगता है। गाने का स्क्रीनप्ले बहुत ही आकर्षक है, जिसे देखकर आप अपनी नजरें नहीं हटा सकते।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper