आतंकी कसाब को पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों को मिला प्रमोशन, 2008 से ही मिलेगा लाभ

मुंबई। पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद अजमल कसाब को 26/11 मुंबई हमलों के दौरान पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों को पदोन्नति दी गई है, जो 2008 से प्रभावी मानी जाएगी। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 22 मार्च के सरकारी आदेश के अनुसार, इन बहादुर पुलिसकर्मियों को पदक, पुरस्कार और नकद पुरस्कार दिए गए थे लेकिन पदोन्नति के रूप में कोई इनाम नहीं दिया गया था, इसलिए उन्हें पदोन्नति देने का फैसला लिया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि कांस्टेबल से लेकर निरीक्षक तक 15 पुलिसकर्मी उस टीम का हिस्सा थे, जिसने कसाब को पकड़ा था।

26 नवंबर 2008 को मुंबई में बड़ा आतंकी हमला हुआ था। लश्कर-ए-तैयबा के प्रशिक्षित और भारी हथियारों से लैस दस आतंकियों ने मुंबई में कई जगहों पर हमला कर दिया था। यह हमला करीब चार दिन तक चला। इसमें 160 से अधिक लोग मारे गए थे। आतंकियों ने मुंबई के दो पांच सितारा होटलों, एक अस्पताल, रेलवे स्टेशनों को निशाना बनाया था। शुरू में किसी को अंदाज़ा नहीं था कि इतना बड़ा हमला हुआ है। धीरे-धीरे इस हमले के पैमाने काअनुमान होना शुरू हुआ।

26 नवंबर की रात में ही आतंकवाद निरोधक दस्ते के प्रमुख हेमंत करकरे समेत मुंबई पुलिस के कई आला अधिकारी भी इस हमले में अपनी जान गंवा बैठे। इस हमले में शामिल एक आतंकवादी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ा गया था। बाद में उसे फांसी दे दी गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper