आर्टिकल 370 हटने की तीसरी बरसी से पहले आतंकी हमला, पुलवामा में मजदूरों को बनाया निशाना, 1 की मौत

श्रीनगर: पुलवामा के गदूरा इलाके में आतंकियों के ग्रेनेड अटैक में एक प्रवासी मजदूर की जान चली गई वहीं दो मजदूर घायल हो गए हैं। बता दें कि 5 अगस्त को आर्टिकल 370 हटाए जाने की तीसरी बरसी है। इससे पहले आतंकियों ने हमला किया है। पुलिस का कहना है कि इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया है। मारे गए मजदूर की पहचान मोहम्मद मुमताज के रूप में हुई है जो कि बिहार के सकवा परसा का रहने वाला था। घायलों का इलाज पुलवामा के जिला अस्पताल में चल रहा है। घायलों के नाम मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद मजबूल बताए गए हैं। ये दोनों ही बिहार के रामपुर के रहने वाले थे। पुलिस का कहना है कि दोनों की ही हालत स्थिर है। इस हमले की निंदा करते हुए श्रीनगर के पूर्व डिप्टी मेयर शेख इमरान ने कहा कि हिंसा को किसी भी रूप में स्वीकार नहीं किया जा सकता।

5 अगस्त को हटाया गया था आर्टिकल 370
साल 2019 में पांच अगस्त को सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया था। शुक्रवार को इसकी तीसरी बरसी है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही राज्यसभा में सरकार ने बताया था कि आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद 118 आम नागरिक मारे गए हैं। इसमें से 5 कश्मीरी पंडित थे। उन्होंने यह भी कहा था कि जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा में काफी सुधार हुआ है और आतंकवादी हमलों में भी कमी आई है।

आर्टिकल 370 को लेकर भारत को बदनाम करने की साजिश
सरकार के बड़े फैसले के बाद से ही बाकिस्तान की बौखलाहट छिप नहीं रही है। पहले तो उसने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर इस मुद्दे को उठाकर भारत को बदनाम करने की कोशिश की। वहां कामयाबी हाथ नहीं लगी तो अब 5 अगस्त को पाकिस्तान ने यौम-ए-इस्तेहसाल मनाने का ऐलान किया है। पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के लोगों को इस तरह के प्रोपगैंडा करके भड़काना चाहता है। वहीं पाकिस्तान के लोग जो दूसरे देशों में बैठे हैं, चिट्ठियां लिखकर वीडियो सर्कुलेट करके और टूल किट का इस्तेमाल करके अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान खींचने में लगे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper