इमोशनल सीन के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल नहीं किया : कपिलाक्षी

मुंबई: साउथ अभिनेत्री कपिलाक्षी मल्होत्रा ने साउथ में अपने करियर की शुरुआत तेलुगू फिल्म ‘प्रेमा पिपासी’ से की थी। इसमें उनके अभिनय को काफी पसंद किया गया था। आलोचकों ने भी इस शानदार रिव्यू दिया था। उनकी ये मूवी एक भावुक प्रेम कहानी थी। इसके बाद अब कपिलाक्षी ने फिल्म में अपने किरदार को लेकर खुलासा कर बताया कि उन्होंने कैसे अपने किरदार को जीवंत किया। वहां अपने रोल को महसूस करती हैं।

कपिलाक्षी ने खुलासा किया कि वहां अपने हर शॉट को महसूस करना पसंद करती हैं, जो वहां कर रही हैं। अभिनेत्री ने खुद को एक विधि अभिनेत्री बताया है। इसकारण जब भावनात्मक दृश्यों को करने की बात आती है, तब वहां अपने भीतर से निकालती हैं। इसतरह के किरदारों को करने के लिए अभिनेत्री अपने जीवन के उन लम्हों में वापस चली जाती हैं। कपिलाक्षी मल्होत्रा आगे कहती हैं कि ‘उन्होंने ‘प्रेमा पिपासी’ में इमोशनल सीन के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल नहीं किया था। वहां रो सकती थीं क्योंकि वहां अपने किरदार के दर्द को महसूस कर सकती थीं।

वहां उसके साथ सहानुभूति रख सकती थीं। कपिलाक्षी कहती हैं कि ‘उन्हें नहीं लगता कि एक अभिनेता के रूप में अच्छा काम किया जा सकता है। अभिनेत्री कहती हैं कि यदि आप लोगों और अपने चरित्र के साथ सहानुभूति नहीं रखते हैं, तब आपको यह महसूस करना होगा कि इस दुनिया में हर कोई सभी भावनाओं से गुजरता है। इससे एक अभिनेता का काम आसान हो जाता है। आपको अपने चरित्र के समान स्थिति में होने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन आपको अपने जीवन की एक स्थिति को उनके साथ और आपको कैसा लगा, यह बताने में सक्षम होना चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper