इस भारतीय के नाम है सबसे बड़े दानवीर का रिकॉर्ड जिसे 100 सालों में कोई नहीं तोड़ पाया

नई दिल्ली। दुनिया के सबसे धनवान शख्‍स‍ियतों में शामिल अमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस ने अपनी सम्‍पत्ति को दान करने का ऐलान किया है. उन्‍होंने कहा, वो अपनी 124 अरब डॉलर की कुल संपत्ति का अध‍िकांश हिस्‍सा दान में देना चाहते हैं और चाहते हैं उस हिस्‍से का इस्‍तेमाल जलवायु परिवर्तन से लड़ने में किया जाए. दुनिया के दानवीरों का रिकॉर्ड देखें तो पता चलता है कि पिछले 100 सालों से भारतीय उद्योगपति जमशेदजी टाटा का रिकॉर्ड कोई नहीं तोड़ पाया है. जानिए, देश-दुनिया के सबसे बड़े दानवीरों की लिस्‍ट में कौन-कौन शामिल है…

हुरून इंडिया की तरफ से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा ग्रुप के संस्‍थापक जमशेदजी टाटा सदी के सबसे बड़े दानवीर रहे हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, ब्र‍िट‍िश उद्योगपति हेनरी वेलकम दानवीरों की लिस्‍ट में तीसरे पायदान पर है. उन्‍होंने 56.7 बिलियन डॉलर की राशि डोनेट की.

37.4 बिलियन डॉलर डोनेट करने के कारण अमेरिकी उद्योगपति और इंवेस्‍टमेंट गुरु कहे जाने वाले वॉरेन बफेट पांचवे पायदान पर रहे.

रोलेक्‍स के फाउंडर हेन्‍स विल्‍सडॉर्फ ने 31.5 बिलियन डॉलर की राशि दान की. वहीं अमेरिकन बिजनेसमैन ने जेके लिली सीनियर ने 27.5 बिलियन डालर डोनेट किए.

रिपोर्ट के मुताबिक, सदी के सबसे बड़े 10 दानवीरों में से 6 अमेरिका से रहे हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper