उत्तर कोरिया के तानाशाह की मौत हुई या फिर ब्रेन डेड? आज उठ सकता है इस रहस्य पर से पर्दा

प्योंगयांग: नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की सेहत को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। करीब 15 दिन से ‘गायब’ किम जोंग उन किस हालत में, इस बारे में तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्टों में तो दावा किया जा रहा है कि किम जोंग उन अब नहीं रहे। संभावना है कि अगर किम जोंग की सच में मौत हो गई है तो हो सकता है कि सोमवार तक इसका ऐलान कर दिया जाए।
कोरिया में सुप्रीम लीडर की मौत का देर से ऐलान करने का इतिहास पहले भी रहा है।

हांगकांग टीवी न्यूज चैनल एचकेएसटीवी के वाइस डायरेक्टर किंग फेंग ने दावा किया है कि किम जोंग उन की मौत हो गई है। वहीं जापान की एक मैगजीन का कहना है कि हार्ट सर्जरी के बाद किम जोंग ब्रेन डेड जैसी अवस्था में हैं। अगर किम की मौत हुई है तो आधिकारिक ऐलान सोमवार को किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले किम के पिता किम जोंग इल की मौत का ऐलान भी 48 घंटे बाद किया गया था।

2011 में किम जोंग इल की मौत 17 दिसंबर को हार्ट अटैक से हुई थी और इसका ऐलान 19 दिसंबर को किया गया था। उस समय टीवी प्रेजेंटर री चुन ही ने उनकी मौत का ऐलान किया था। अब भी नॉर्थ कोरिया में लोगों की नजरें इस बात पर रहेंगी कि क्या चुन ही इस बार भी काले कपड़ों में सुबह के बुलेटिन में इस बात की घोषणा करेंगी।

किम जोंग इल का अंतिम संस्कार मौत के 9 दिन बाद किया गया था। अगर इस बार भी ऐसा हुआ तो किम जोंग उन का अंतिम संस्कार 5 मई को किया जा सकता है। खास बात यह है कि जब चुन ही ने किम जोंग इल की मौत का ऐलान किया था तो साथ ही यह भी बताया था कि किम जोंग उन अगले नेता होंगे। अगर उत्तराधिकारी घोषित करने के लिए उसी परंपरा का पालन किया गया तो इस बार भी दुनिया को किम के उत्तराधिकारी के बारे में जानने के लिए लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। वैसे माना जा रहा है कि किम की बहन किम यो जांग सुप्रीम लीडर हो सकती हैं। ऐसा हुआ तो 1948 के बाद से देश की सत्ता इसी परिवार के पास रहेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper