कंप्यूटर, लैपटॉप पर काम करने से हो रही आँखों में परेशानी, तो इन योग को अपनाये

आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में हमें अपनी सेहत का ख्याल रखने के लिए भी समय नहीं मिल पा रहा है! हमारी जीवन शैली और काम करने के तरीके से हमारी हेल्थ पर भी असर पड़ रहा है! ज्यादातर लोग कंप्यूटर या लैपटॉप पर ऑफिस का काम करते हैं! ऐसे में उम्र से पहले ही आंखें कमजोर होने लगी है! आंखें कमजोर होने की वजह से आंखों की रोशनी पर भी असर पड़ता है! वहीं कुछ लोग मोबाइल पर लंबा समय बिताते हैं जिसकी वजह से आंखों पर असर पड़ता है! आजकल आंखों में जलन, शुष्कता जैसी कई समस्याएं आम हो गई हैं! ऐसे में अगर आप कुछ खास योगासन करते हैं तो इससे आपकी आंखों की रोशनी बढ़ेगी और आंखों से जुड़ी दूसरी समस्यांए भी दूर हो जाएंगी! आइये जानते हैं आंखों को स्वस्थ रखने के लिए कौन सा योग करना चाहिए!

साइड में देखना- आंखों को स्वस्थ बनाने के लिए आप इस आसन को कर सकते हैं इसमें सबसे पहले अपने पैरों को शरीर की सीध में रखते हुए बैठ जाएं! अब मुट्ठियां बंद कर लें और अंगूठा ऊपर रखते हुए हाथों को उठाएं! अब आंखों से सामने किसी एक बिंदु को ध्यान से देखें और फिर आंख की पुतलियों को एक किनारे से दूसरे किनारे पर केंद्रित करें! ऐसा कम से कम दस बार करें!

हथेलियों से आंखें सेकना- सबसे पहले अपनी आंखों को बंद करके बैठ जाए और गहरी सांस भरें! अब अपनी दोनों हथेलियों को तेजी से रगड़ें और गरम होने पर अपनी पलकों पर लगाएं! आप कम से कम तीन बार ऐसा करें!

सामने देखना- सबसे पहले अपने पैरों को आगे की ओर करके बैठ जाएं! अब अपने बाएं हाथ की मुट्ठी बांधें और अंगूठा ऊपर की ओर निका लें! अब आंखों को बाएं अंगूठे पर केंद्रित रखें और अपनी आंखों की सीध में ऊंचाई पर स्थित बिंदु तक लेकर जाएं ध्यान केंद्रित करें! ठीक इसी तरह आपको दाएं हाथ के अंगूठे के साथ करना है! इसके बाद आंखों को बंद करके थोड़ा आराम दें!

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper