कांग्रेस का विरोध ‘सत्याग्रह’ नहीं ‘सच्चाई’ को छुपाने की कोशिश – जेपी नड्डा

नई दिल्ली । सोनिया गांधी से ईडी की पूछताछ के विरोध में कांग्रेस द्वारा किए जा रहे ‘ सत्याग्रह’ को सच्चाई को छुपाने की कोशिश और ‘असत्य’ के लिए आग्रह करार देते हुए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने कहा है कि कांग्रेस जो विषय उठा रही है वो न देश के लिए आवश्यक है न ही कांग्रेस पार्टी के लिए, बल्कि यह एक परिवार को बचाने का प्रयास है। नड्डा ने कहा कि करोडों रुपये का घोटाला हुआ है। उस घोटाले के बारे में उन्हें एजेंसियों को जवाब देना चाहिए लेकिन यह परिवार अपने आपको देश से ऊपर, कानून से ऊपर समझता है इसलिए ये अपने आपसे की जा रही आवश्यक पूछताछ को स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं।

नड्डा ने पीएमएलए और ईडी के अधिकार क्षेत्र को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का जिक्र करते हुए कहा कि कानून अपना काम कर रहा है और कानून के सामने अपना पक्ष रखना हर व्यक्ति के लिए आवश्यक है।

नड्डा ने आगे कहा कि लेकिन कांग्रेस पार्टी जिस तरह से एक परिवार को बचाने का प्रयास कर रही है, उन्हें देश के कानून से ऊपर साबित करने का प्रयास कर रही है वह इस देश में चलने वाला नहीं है। यह देश कानून और नियमों से चलता है एवं नियम सबके लिए बराबर है। कांग्रेस पार्टी और परिवार को नियमों के अनुसार कानून के सामने अपना जवाब देना चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper