जम्मू-कश्मीर में पर्यटकों, तीर्थयात्रियों, ट्रकों की आवाजाही के लिए एडवाइजरी जारी

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर ट्रैफिक पुलिस ने रविवार को पर्यटकों, तीर्थयात्रियों और ट्रक की आवाजाही के लिए अमरनाथ यात्रा 2022 के दौरान एनएच-44 के लिए यात्रा के समय और यात्रा प्रतिबंधों के बारे में सूचित करने के लिए एडवाइजरी जारी की। जम्मू-कश्मीर के आईजीपी ट्रैफिक पुलिस की ओर से जारी एडवाइजरी के मुताबिक मुगल रोड से 10 टायर तक खाली टैंकर और ट्रक जम्मू की तरफ चलेंगे।

10 टायर तक के ट्रक जिनमें ताजी खराब होने वाली वस्तुओं से लदा हुआ भी शामिल है। जम्मू की ओर मुगल रोड का उपयोग करेंगे। यातायात अधिकारियों द्वारा दैनिक मूल्यांकन के अधीन, मुगल रोड का समय भी सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक बढ़ा दिया गया है। एडवाइजरी में आगे कहा गया है कि एनएच-44 के माध्यम से 10 से अधिक टायर वाले ट्रक राष्ट्रीय राजमार्ग -44 के माध्यम से चलेंगे।

10 से अधिक टायरों वाले ताजे खराब होने वाले सामानों से भरे ट्रक दोपहर 2 बजे से पहले जखेनी नाका/काजीगुंड नाका पहुंच जाएं। इन ट्रकों को अलग से खड़ा किया जाएगा और यातायात जारी होने पर वरीयता दी जाएगी। इसमें कहा गया है कि कश्मीर घाटी में ‘यात्रा काफिले’ के अलावा अन्य पर्यटकों की आवाजाही को कश्मीर घाटी में केवल सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे के बीच यात्रा करने की सलाह दी जाती है। और उन्हें अपनी यात्रा की योजना बनानी चाहिए ताकि इस समयावधि के भीतर अपने गंतव्य तक पहुंच सकें।

ट्रैफिक एडवाइजरी में कहा गया है कि यदि पर्यटक निर्धारित समय के भीतर, यानी शाम 6 बजे तक अपने गंतव्य तक पहुंचने में विफल रहते हैं, तो सुरक्षा बल ऐसे पर्यटकों को रात के लिए निकटतम लॉजमेंट सेंटर में रोक देंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper