ट्विटर यूजर्स सावधान! कहीं आपको भी तो नहीं आ रहे फेक अकाउंट वेरिफिकेशन ईमेल, जानिए क्या है मामला

नई दिल्ली। ट्विटर के नए CEO एलन मस्क ने घोषणा की कि माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट अपनी वेरिफिकेशन प्रक्रिया को बदल देगा। ट्विटर के नए सत्यापन नॉम्स की घोषणा के साथ, साइबर सुरक्षा से जुड़े कई खतरे भी सामने आए हैं। आइये इनके बारे में जानते हैं।

जैसा कि हम जानते हैं कि ट्विटर पर अकाउंट वेरिफिकेशन के लिए शुल्क लेने की योजना बना रहा है। जिसके तहत यूजर्स को अपने वेरिफाइड अकाउंट के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं। हाल ही में मस्क ने कहा है कि यूजर्स को अकाउंट वेरिफिकेशन के लिए केवल 8 डॉलर देने होंगे।

बता दें कि कुछ लोगों को पहले से ही फ़िशिंग ईमेल मिल रहे हैं। लेटेस्ट अपडेट से पता चला है कि अकाउंट वेरिफिकेशन का ये विकल्प अब एक साइबर सुरक्षा समस्या बन गई है। हाल ही में टेक क्रंच के एडिटर जैक व्हिटेकर ने अपने ट्विटर पर फेक अकाउंट वेरिफिकेशन मेल का स्क्रीनशॉर्ट साझा किया गया है।

जैक व्हिटेकर ने एक ट्वीट में लिखा कि ट्विटर की चल रही वेरिफिकेशन केयोस अब एक साइबर सुरक्षा समस्या है। ऐसा लगता है कि कुछ लोगों को क्रूड फ़िशिंग ईमेल मिल रहे हैं, जो लोगों को उनके ट्विटर क्रेडेंशियल्स को बदलने के लिए बरगला रहे हैं।

टेकक्रंच के अनुसार, फ़िशिंग ईमेल ट्विटर यूजर्स को हमलावर की वेबसाइट पर अपना यूजर नेम और पासवर्ड पोस्ट करने के लिए लुभाने का प्रयास करते हैं, जो हेल्प फ़ॉर्म के रूप में आता है। जैक व्हिटेकर को मिले इमेल में कहा गया है कि अपनी वेरिफिकेशन स्टेटस न खोएं।

ट्विटर 7 नवंबर तक नई वेरिफिकेशन प्रणाली शुरू कर सकता है, क्योंकि मस्क ने डेवलपर्स को समय सीमा दी है। अगर वे तय तारीख में इसे पूरा करने में विफल रहते हैं तो वे अपनी नौकरी खो देंगे। हालांकि एलन मस्क ने सुधार के बारे में कोई अन्य विवरण नहीं दिया है, द वर्ज ने बताया कि प्लेटफ़ॉर्म यूजर्स से ब्लू टिक के लिए शुल्क लेना शुरू कर देगा और अगर लोग इसके लिए भुगतान करने में विफल रहते हैं, तो वे वेरिफिकेशन बैज खो देंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper