डीएसपी तेरी वर्दी उतरवा दूंगा’, आरजेडी के पूर्व एमएलसी के बेटे की गुंडागर्दी, जाने पूरा मामला

पटना. बिहार की राजधानी पटना में पुलिस पर हुए हमले के सिलसिले में दुकानदार सरफराज को छुड़ाने के लिए शुक्रवार शाम पीरबहोर थाने पहुंचे राजद के पूर्व एमएलसी अनवर अहमद और वार्ड 40 पार्षद के बेटे असफर अहमद ने हंगामा कर दिया। आधा दर्जन पुलिस अधिकारियों के सामने असफर अहमद ने टाउन डीएसपी अशोक प्रसाद सिंह से भी बदसलूकी की और वर्दी उतारने की धमकी दी। अफसर ने डीएसपी से कहा कि मुझे तुम पहचानते नहीं हो तुम्हारी वर्दी उतरवा दूंगा।

गुरुवार को सब्जीबाग डेंटल कॉलेज के सामने छापेमारी कर रहे पुलिस दस्ते पर स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया। सड़क पर दौड़कर मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस की पिटाई कर दी। इस मामले में क्षेत्र के डीएसपी व थानेदार ने मौके पर जाकर एक स्थानीय दुकानदार को शक के आधार पर गिरफ्तार कर थाने ले गए। इसके बाद स्थानीय वार्ड पार्षद असफर अहमद थाने पहुंचे और अधिकारियों पर कैद व्यापारी को छुड़ाने का दबाव बनाने लगे। मामला इतना बढ़ गया कि देर रात पुलिस थाने अशोक राजपथ के सामने की सड़क को कुछ शरारती तत्वों ने जाम कर दिया। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। इस दौरान पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया। देर रात तक पुलिस मौके पर कैंप करती रही।

पुलिस ने गुरुवार को पुलिस पर हमले के सिलसिले में वार्ड पार्षद समेत एक अन्य संदिग्ध को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया और देर रात से ही उन्हें जेल भेजने की तैयारी कर रही है। असफर अहमद के गिरफ्तार होते ही रात करीब साढ़े नौ बजे कई असामाजिक तत्व थाने के बाहर जमा हो गए और आसपास की दुकानों को हिंसक रूप से बंद कर दिया। इसके बाद सड़क जाम कर हंगामा शुरू हो गया। हालांकि रिपोर्ट्स के मुताबिक वज्रवाहन और एक अतिरिक्त पुलिस बल पीरबहोर थाने पहुंचे और सड़क जाम कर हंगामा कर रहे लोगों पर हल्का बल प्रयोग किया। थाने के अंदर और बाहर देर रात तक तनाव बना रहा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper