देशभर से दर्शकों का प्यार पा रहा शो, ‘पुष्पा इम्पॉसिबल’, पुष्पा का एक अनूठा सफर है, जो इज्जत और सम्मान की जिंदगी पाना चाहती है

 

भोपाल: मुश्किलों में भी डटकर खड़े रहने और हर परेशानी का मुस्कुराहट के साथ सामना करने वाली, पुष्पा एक जिंदादिल, सरल और मेहनतकश, सिंगल मदर है। सिर्फ उसका परिवार ही नहीं, उसके पड़ोसी भी उसकी जान हैं। ‘पुष्पा इम्पॉसिबल’ को समीक्षकों की सराहना और दर्शकों का ऐसा प्यार मिला कि इस शो को देखने वाली महिलाओं के लिये यह शो, अपनी सकारात्मकता, अटूट धैर्य और दृढ़ता के साथ एक प्रेरणा बन गया है। एक ऐसी कहानी के साथ जोकि प्रेरक और हौसला बढ़ाने वाली है, इस शो में किस्मत की मारी एक महिला के अपने मंजिल तक पहुंचने वाली चैम्पियन की कहानी दिखाई गई है। ‘पुष्पा इम्पॉसिबल’ का प्रसारण सोनी सब पर सोमवार से शनिवार, रात 9.30 बजे होता है।

चाहे, अपने परिवार और स्कूल बोर्ड को स्कूल में दाखिले के लिये मनाना हो, या अपने मकानमालिक के गुस्से का सामना करना हो या फिर कई ऐसी ही मुश्किलें, जिसका सामना पुष्पा को हर रोज अपने जीवन में करने को मजबूर होना पड़ता है। ऐसे में अपने कभी ना भूलने वाले वन-लाइनर्स, अपने आन्त्रप्रेन्योर स्वभाव और जिंदगी की चुनौतियों के आगे हार ना मानने वाले जज्बे की वजह से पुष्पा को दर्शकों का प्यार मिल रहा है। आज, पुष्पा अश्विन (नवीन पंडित), दीप्ति (गरिमा परिहार) और क्रिएटर जेडी मजीठिया के साथ, दर्शकों के बेशुमार प्यार का शुक्रिया अदा करने के लिए खूबसूरत शहर भोपाल पहुंची है।

करुणा पाण्डे कहती हैं, “पुष्पा का किरदार किसी तूफानी टास्क से कम नहीं रहा है और हर कदम पर उसने ना केवल दोहरी मेहनत की है, बल्कि वह सामाजिक दबावों और तानों से भी उबरी है। इस किरदार को निभाना मेरे लिये काफी सीखने वाला अनुभव रहा है, क्योंकि मुझे एहसास हुआ कि महिलाएं, जिन चुनौतियों का सामना करती हैं, वह पुरुषों की तुलना में कहीं ज्यादा कठिन होता है। मुझे ऐसा लगता है कि इस शो और किरदारों की सच्चाई और वास्तविकता ने हर जगह से दर्शकों का ज्यादा से ज्यादा प्यार पाने में मदद की है। हम अपने फैन्स को शुक्रिया कहने और उन्हें वैसा ही प्यार देने के लिये भोपाल आए हैं। वे लगातार इस शो को देख रहे हैं और अपना प्यार दे रहे हैं।”

दीप्ति की भूमिका निभा रहीं, गरिमा परिहार कहती हैं, “जब तक मैं इस शो से जुड़ी नहीं थी, मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक शो वास्तविक जीवन में इतना बदलाव ला सकता है। इतना ही नहीं, हम कुछ ऐसी महिलाओं से मिले हैं जोकि पुष्पा का जीता-जागता उदाहरण हैं। कई ऐसी भी महिलाएं हैं, जिन्‍हें इस शो से अपने सपनों को पूरा करने की प्रेरणा मिली है, चाहे वो कितने ही बड़े या छोटे क्यों ना हों। हमें जो प्यार मिला है उसका कोई जवाब नहीं और इस शो को इतना प्यार देने के लिये हम भोपाल के दर्शकों का शुक्रिया अदा करना चाहते हैं।”

अश्विन की भूमिका निभा रहे, नवीन पंडित कहते हैं, “भगवान ने महिलाओं और पुरुषों को एक जैसा बनाया है, लेकिन इसके बावजूद हमें पता है कि महिलाओं को उसी मंजिल तक पहुंचने के लिये ज्यादा मुश्किल और लंबे रास्ते से होकर गुजरना पड़ता है। ‘पुष्पा इम्पॉसिबल’ झकझोर देने वाला शो है, एक बार जब कोई महिला कुछ ठान लेती है तो नियति भी उसे उसके सपनों और मंजिल को पाने से नहीं रोक पाती। इस शो को इतनी अच्छी प्रतिक्रिया मिलने से हमारा दिल बाग-बाग हो गया है और हम अपने दर्शकों का जितना भी शुक्रिया अदा करें, कम है।“

देखते रहिए, पुष्पा की हिम्मत को उन चुनौतियों से होकर गुजरते और रूढ़ियों को तोड़ते हुए, ‘पुष्पा इम्पॉसिबल’ में, सोमवार से शनिवार, रात 9.30 बजे, केवल सोनी सब पर

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper