बदरुद्दीन अजमल ने असम के मुसलमानों से की अपील, ईद पर न करें गायों की हत्या

गुवाहाटी । लोकसभा सांसद और ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के प्रमुख बदरुद्दीन अजमल ने असम के मुस्लिम समुदाय से आगामी 10 जुलाई को होने वाली ईद के दौरान गायों की बलि नहीं देने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा, “भारत कई अलग-अलग समुदायों, जातीय समूहों और धर्मों के व्यक्तियों का घर है। सनातन धर्म गाय को एक पवित्र प्रतीक के रूप में पूजता है, बहुसंख्यक भारतीय इसे मानते हैं। हिंदू गाय को एक मां के रूप में मानते हैं।”

अजमल ने कहा: इसलिए मैं मुसलमानों से ईद के दौरान गायों को न मारने की अपील करता हूं। हम इस प्रथा का कड़ा विरोध करते हैं। उन्होंने मुस्लिम समुदाय से धार्मिक दायित्व को पूरा करने और दूसरों की भावनाओं को आहत करने से बचने के लिए अन्य जानवरों का उपयोग करके बलि चढ़ाने का अनुरोध किया।

अजमल ने कहा कि देश के सबसे बड़े इस्लामिक शैक्षणिक संस्थान दारुल उलूम देवबंद ने भी दो साल पहले ईद पर गायों की कुबार्नी से बचने की अपील जारी की थी। जमीयत उलेमा-ए-हिंद की असम इकाई ने भी यही अनुरोध किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper