भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक : पहले दिन आगामी चुनाव जीतने से लेकर इन मुद्दों पर हुई चर्चा, 10 बातें

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक दिल्ली में सोमवार से शुरू हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी के तमाम पदाधिकारी इस बैठक में शामिल हो रहे हैं. पहले दिन के समापन से पहले बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए. पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पदाधिकारियों को इस अवसर पर संबोधित किया.
मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

बीजेपी की बैठक में फैसला लिया गया है कि दयानंद सरस्वती के 200 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर 13 फरवरी को एक विशाल कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को कहा कि 2023 हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है और हमें 9 प्रदेशों में चुनाव लड़ना है. उन्होंने पूरी कार्यकारिणी से आह्वान किया कि चुनाव के लिए कमर कस लें, हमें सभी 9 राज्यों में जीत दर्ज करनी है.

बैठक को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि 2023 और 2024 का एक भी चुनाव नहीं हारना है. उन्होंने कहा कि जहां सरकार वहां संगठन को और मजबूत किया जाए. साथ ही जिन राज्यों में सरकार नहीं वहां भी संगठन को मजबूत किया जाए.

कार्यकारिणी की बैठक को लेकर मीडिया से बात करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि पेगासस, राफेल, ED, सेंट्रल विस्टा, आरक्षण और नोटबंदी… ये ऐसे विषय थे जिन पर विपक्ष ने आधारहीन दावों के माध्यम से प्रधानमंत्री पर आरोप लगाए लेकिन कोर्ट में उन्हें मुंह की खानी पड़ी.

गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी की शानदार जीत को लेकर बीजेपी की बैठक में चर्चा हुई. मीडिया से बात करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि गुजरात में हमने एंटी-इनकम्बेंसी को प्रो-इनकम्बेंसी में बदल कर जीत दर्ज की है. ये सामान्य नहीं बल्कि ऐतिहासिक जीत है.गुजरात की जीत का प्रभाव आने वाले चुनाव पर भी निश्चित ही नजर आएगा.

काशी-तमिल संगम अयोध्या कॉरिडोर का जिक्र भी किया गया है. गरीब कल्याण की योजनाएं गरीबों तक पहुंच रही है.
बैठक में कहा गया कि वीर बाल दिवस की घोषणा करना एक बड़ा कदम था. दो साहेबजादों की याद में वीर बाल दिवस से सिख धर्म के लोगों की पड़ी सेवा है.

हिमाचल चुनाव में पार्टी की हार को लेकर जेपी नड्डा ने कहा कि हिमाचल में हमें रिवाज बदलना था लेकिन हम नहीं बदल पाए. पूर्व में चुनाव 5 फीसदी से हारते थे इस बार दो हजार से हारे हैं.

मंगलवार को सुबह दस बजे से राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक फिर शुरु होगी.प्रधानमंत्री का समापन भाषण दोपहर बाद तीन बजे के आसपास होने की संभावना है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper