भारी बारिश से गोवा में भी तबाही, दूधसागर झरने के पास फंसे 40 पर्यटक; रेस्क्यू कर बचाया

Goa Rain: देश के कुछ राज्यों में भारी बारिश का दौर अभी भी जारी है। मानसून के लौटने के बाद भी लगातार बारिश की गतिविधियां बनी रहने से आम जनजीवन प्रभावित हो गया है। बारिश की वजह से जगह जगह पुल-पुलियाएं डूबने से यातायात प्रभावित हुआ है। निचले इलाकों में भी पानी भरने से हालात बुरे बने हुए हैं। दक्षिण गोवा में भारी बारिश से मंडोवी नदी का जलस्तर बढ़ने और उसके ऊपर बने एक पुल के बह जाने से दूधसागर झरने के पास फंसे कम से कम 40 पर्यटक फंस गए थे। पर्यटकों को राज्य सरकार द्वारा तैनात जवानों ने बचा लिया है। अधिकारियों ने शनिवार को इसकी जानकारी दी।

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने की तारीफ

राज्य में कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है। उक्त घटना शुक्रवार शाम की है। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बचाव अभियान के लिए जीवनरक्षकों की सराहना की है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ”मंडोवी नदी का जलस्तर बढ़ने से उसके ऊपर बना पुल तेज बहाव में बह गया, जिस कारण कम से कम 40 पर्यटक दूधसागर झरने के पास फंस गए थे।” उन्होंने कहा कि नदी के ऊपर पुल नहीं होने के कारण पर्यटक अपने आप नदी पार करने में सक्षम नहीं थे, लिहाजा राज्य सरकार द्वारा भेजे गए जीवनरक्षकों ने उन्हें वहां से सुरक्षित निकाला।

मुख्यमंत्री सावंत ने किया ट्वीट

मुख्यमंत्री सावंत ने एक ट्वीट में कहा, ”भारी बारिश से जलस्तर बढ़ने के बाद पुल टूटने के कारण दूधसागर झरने के पास फंसे लगभग 40 पर्यटकों को जीवनरक्षकों ने बचा लिया। मैं पर्यटकों को बचाने के लिए आप सभी को धन्यवाद और बधाई देता हूं।”

पुणे में भी बारिश से हाल बेहाल

महाराष्ट्र के पुणे में भी बारिश से हाल बेहाल हैं। वहां अभी बारिश से राहत मिलती नहीं दिख रही है। उधर, अहमद नगर की सीना नदी का पानी पुल तक पहुंच गया है। मौसम विभाग ने पुणे सहित कई इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

सीना नदी उफान, पर यातायात प्रभावित

ग्रामीण महाराष्ट्र में जारी भारी बारिश का दौर जारी है। अहमदनगर की सीना नदी का पानी पुल तक पहुंचकर रास्तों को डूबा चुका है। पुल पार करने वाली गाड़ियों को जान का खतरा बना हुआ है। लोगों की मदद से रास्ते पार करने की कोशिश की जा रही है। दरअसल, अहमदनगर के आसपास के इलाकों में अच्छी बारिश हुई है, इससे सीना नदी में पानी भर गया है। नगर-कल्याण मार्ग पर सीना नदी पुल पर पर भी यही हाल है। नगर-कल्याण हाईवे पर यातायात पर असर पड़ा है, वाहन चालक जान जोखिम में डालकर यहां से पानी के बीच पार निकलने की कोशिश कर रहे हैं। सीना नदी उफान पर होने के कारण आगे का रास्ता बंद हो गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper