अजब-गजबलाइफस्टाइल

भूकंप से होता है घर और कार को नुकसान तो कौन भरेगा हर्जाना? ये काम किया तो मिल जाएगा पूरा पैसा

नई दिल्ली। मंगलवार की रात यानी कि 21 मार्च, 2023 को भारत के ज्यादातर हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.6 रही। दिल्ली-एनसीआर और लखनऊ जैसे शहरों में तेज झटके महसूस किए गए और खबर है कि इससे कई बिल्डिंग में दरार भी आ गई है। ऐसे में ख्याल आता है कि अगर भूकंप से आपके घर-मकान या गाड़ी को नुकसान पहुंचता है तो क्या बीमा कंपनी इसका क्लेम देगी? भारत में इससे जुड़े क्या नियम हैं?

कुछ समय पहले तक भूकंप से होने वाले नुकसान को ‘ईश्वर का कार्य’ (Act of God) माना जाता था और इसे बीमा कंपनियों द्वारा कवर नहीं किया जाता था। हालांकि, अब कुछ बीमा कंपनियों ने भी भूकंप से होने वाले नुकसान के लिए वित्तीय कवरेज देना शुरू कर दिया है। इसमें होम कवरेज से लेकर आपकी गाड़ी तक को कवरेज मिलता है।

भूकंप के कारण आपके घर को होने वाली क्षति काफी बड़ी हो सकती है और इसकी मरम्मत में काफी खर्च आएगा। इस कारण होम इंश्योरेंस पॉलिसी में भूकंप कवरेज का होना जरूरी है। बता दें कि भूकंप कवरेज में घर के साथ-सरथ इसमें रखे सामान को भी कवर किया जाता है। भारत में कुछ बीमा कंपनियां 8 से 10 करोड़ रुपये तक के होम स्ट्रक्चर और 40 से 50 लाख रुपये तक के घर में रखे सामान को कवर देती हैं।

घर की तरह कार में भी भूकंप को कवर करने के लिए अलग से खंड दिए रहते हैं। इस कारण जब कभी भी अपनी गाड़ी के लिए बीमा पॉलिसी का चयन करने हैं, इस बात को सुनिश्चित कर लें कि इसमें भूकंप से होने वाले नुकसान को कवर किया गया हो। यह मुख्य रूप से थर्ड पार्टी कार इंश्योरेंस कवरेज में दिया होता है।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper