मध्यप्रदेश कहीं ना बन जाए ‘उड़ता मध्यप्रदेश’, जागरुकता अभियान शुरु : उमा

भोपाल: भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने मध्यप्रदेश के ‘उड़ता मध्यप्रदेश’ ना बन जाने की आशंका जताते हुए कहा है कि वे फिर से शराबबंदी को लेकर अपना जागरुकता अभियान शुरु कर रही हैं।

सुश्री भारती ने अपने ट्वीट के माध्यम से कहा कि करीब सवा महीने पहले उनकी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की शराबबंदी को लेकर बात हुई। इसके बाद उनकी दिल्ली में पार्टी संगठन के वरिष्ठतम नेतृत्व से इस विषय पर बात हुई। प्रदेश पार्टी संगठन के वरिष्ठ प्रभारियों से भी इसी संबंध में बात हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि सभी बैठकों में सब शराब के खिलाफ एकमत थे। सभी का मानना था कि शराब पिलाने के अहाते प्रदेश में नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके बाद अब डेढ़ महीना हो चुका है। बातचीत के परिणाम आने की प्रतीक्षा करते हुए वे जागरूकता अभियान शुरु कर रही हैं क्योंकि ये अभियान पार्टी एवं सरकार की नीति के ही अनुसार है।

सुश्री भारती ने कहा कि यह अभियान तेजी पकड़े यह जरूरी है। उन्होंने पंजाब का उदाहरण देते हुए कहा कि हर नशा एक-दूसरे से जुड़ा है और हम भूल से मध्यप्रदेश को ‘उड़ता मध्यप्रदेश’ ना बना दें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper