महरौली हत्या – आफताब ने हत्या से दस दिन पहले बनाई थी श्रद्धा को खत्म करने की योजना

नई दिल्ली । आफताब अमीन पूनावाला, जिसने कथित तौर पर अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉकर की हत्या की थी, उसने दस दिन पहले उसे मार डालने की योजना बनाई थी, लेकिन श्रद्धा के रोने से वह झिझक गया। सूत्रों ने यह जानकारी दी है। सूत्रों ने बताया, “उनके बीच अक्सर झगड़े होते थे, क्योंकि श्रद्धा को शक था कि वह उसे धोखा दे रहा है। वह डेटिंग ऐप बम्बल पर सक्रिय था, जिस पर दोनों तीन साल पहले मिले थे।”

सूत्रों ने दावा किया, “वह जानती थी कि वह डेटिंग ऐप पर अन्य लड़कियों से बात कर रहा था और आफताब को अब उसमें कोई रूचि नहीं थी।”

सूत्रों ने कहा, “लड़ाई के बाद, आफताब ने 10 दिन पहले उसे मारने की योजना बनाई थी, लेकिन श्रद्धा रोई और फिर वह ऐसा करने में झिझक गया।”

पुलिस ने कहा कि 18 मई को अपनी 27 वर्षीय प्रेमिका के शव के टुकड़े-टुकड़े करने के बाद आरोपी ने अगले दिन एक बड़ी भंडारण क्षमता वाला नया रेफ्रिजरेटर खरीदा और अवशेषों को उसमें जमा कर दिया।

बदबू से बचने के लिए उसने अपने घर पर अगरबत्तियां जलाई।

आफताब कथित तौर पर अमेरिकी क्राइम शो ‘डेक्सटर’ से प्रेरित था, जो एक ऐसे व्यक्ति की कहानी बताता है जो दोहरी जिंदगी जीता है।

सूत्रों ने बताया कि प्रशिक्षित रसोइया होने के नाते आफताब चाकू चलाने में माहिर था। हालांकि वारदात में प्रयुक्त चाकू अभी तक बरामद नहीं हो सका है।

उसने 18 दिनों की अवधि में महरौली के जंगल में शरीर के टुकड़े फेंके थे। शक से बचने के लिए वह रात करीब 2 बजे पॉलीबैग में बॉडी पार्ट रखकर घर से निकल जाता था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper