लोकसभा उपचुनाव: आजमगढ़ से एक बार फिर दिनेश यादव ‘निरहुआ’ लड़ेंगे चुनाव, रामपुर से घनश्याम लोधी

लखनऊ: भाजपा ने शनिवार को भोजपुरी अभिनेता से नेता बने दिनेश लाल यादव “निरहुआ” को उत्तर प्रदेश में आगामी लोकसभा उपचुनाव के लिए आजमगढ़ से अपना उम्मीदवार घोषित किया। रामपुर लोकसभा सीट के लिए पार्टी ने समाजवादी पार्टी (सपा) के पूर्व एमएलसी घनश्याम लोधी को मैदान में उतारा है। निरहुआ और लोधी दोनों ओबीसी उम्मीदवार हैं।

अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल को हराकर मैनपुरी जिले की करहल विधानसभा सीट जीती। अखिलेश ने पहला विधानसभा चुनाव लड़ा था। 2012 से 2017 तक यूपी के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान अखिलेश यादव विधान परिषद के सदस्य थे। 2019 में भाजपा में शामिल हुए निरहुआ ने पिछले आम चुनाव में आजमगढ़ लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था, लेकिन अखिलेश यादव से 2.5 लाख से अधिक मतों से हार गए। उनके हाल के निर्वाचन क्षेत्र के दौरे के बाद से उनके आजमगढ़ से फिर से चुनाव लड़ने की अटकलें तेज हो गईं, जहां उन्होंने सीट छोड़ने के लिए सपा प्रमुख पर निशाना साधा।

रामपुर लोकसभा सीट से खाली हुई बीजेपी ने उपचुनाव के लिए घनश्याम लोधी को पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान द्वारा खाली की गई रामपुर लोकसभा सीट पर वॉकओवर देने का फैसला किया है, जो विधानसभा के लिए चुने गए हैं। सूत्रों के मुताबिक, खान के परिवार के सदस्य के रामपुर लोकसभा सीट से उपचुनाव लड़ने की संभावना है, जिसे उनका पॉकेट बोरो माना जाता है।

भाजपा ने चार राज्यों त्रिपुरा (4), आंध्र प्रदेश (1), दिल्ली (1) और झारखंड (1) की सात विधानसभा सीटों के लिए भी उम्मीदवारों की घोषणा की है। लोकसभा उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 6 जून है और मतदान 23 जून को होना है, जबकि मतगणना 26 जून को होगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper