संसद की रणनीति पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री ने की शीर्ष मंत्रियों से मुलाकात

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कैबिनेट सदस्यों के साथ एक बैठक की, जिसमें संसद के मानसून सत्र में विपक्ष से आमना-सामना करने की रणनीति पर चर्चा की गई। बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी, सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, कानून मंत्री किरेन रिजिजू शामिल थे।

गौरतलब है कि कांग्रेस के चार सांसदों को सोमवार को पूरे मानसून सत्र के लिए अभद्र व्यवहार के लिए निलंबित कर दिया गया था। मनिकम टैगोर, राम्या हरिदास, जोथिमणि और टी.एन. प्रथपन को 12 अगस्त को समाप्त होने वाले पूरे मानसून सत्र के लिए सदन के अंदर विरोध प्रदर्शन करने के लिए निलंबित कर दिया गया है।

स्पीकर ओम बिरला ने पहले उन्हें इसके खिलाफ चेतावनी दी थी। सोमवार को जैसे ही सदन की बैठक दोपहर 2 बजे हुई। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह के बाद विपक्षी सदस्यों ने महंगाई और जीएसटी दरों में बढ़ोतरी के मुद्दे पर नारेबाजी शुरू कर दी। जब वे सदन के वेल में पहुंचे तो उनमें से कुछ को तख्तियां और बैनर पकड़े देखा गया।

यह कहते हुए कि सरकार मुद्दों पर चर्चा करने के लिए तैयार है, अध्यक्ष ने उन्हें तख्तियां लहराने के खिलाफ चेतावनी दी क्योंकि इससे सदन के नियमों का उल्लंघन होता है। जब उनके लगातार अनुरोधों पर ध्यान नहीं दिया गया, तो उन्होंने चार कांग्रेस सदस्यों को सत्र के शेष भाग के लिए निलंबित कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper