सोनाली फोगाट मौत मामला: 14 साल पहले भी सुर्खियों में आया था गोवा का यह रेस्तरां

पणजी। गोवा (Goa) के प्रसिद्ध अंजुना समुद्र तट (famous Anjuna beach ) स्थित रेस्तरां ‘कर्लीज’ ( ‘Curlies’) 14 साल पहले उस समय सुर्खियों में रहा था जब एक ब्रिटिश किशोरी की मौत (British teenager dies) हो गई थी। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की नेता सोनाली फोगाट (Sonali Phogat) अपने होटल लौटने और बेचैनी की शिकायत से पहले इसी रेस्तरां में गई थीं। सोनाली फोगाट (42) सोमवार रात को ‘कर्लीज’ रेस्तरां गई थीं और उन्हें 23 अगस्त की सुबह उनके होटल से उत्तरी गोवा जिले के अंजुना के सेंट एंथोनी अस्पताल में मृत लाया गया था। पहले माना जा रहा था कि फोगाट की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई लेकिन अब इसे हत्या के मामले के तौर पर देखा जा रहा है। मामले में फोगाट के दो सहयोगियों को अंजुना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

यह रेस्तरां 2008 में ब्रिटिश किशोरी स्कारलेट ईडन कीलिंग की मौत की जांच के दौरान सुर्खियों में आया था। कीलिंग की मां ने उस वक्त दावा किया था कि उनकी बेटी ने कहा था कि वह ‘कर्लीज’ गई थी जिसके बाद उस स्थान पर पहुंची, जहां उसका यौन उत्पीड़न किया गया और उसे समुद्र तट पर मरने के लिए छोड़ दिया गया। कीलिंग की मां फियोना मैकेउन का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील विक्रम वर्मा ने गुरुवार को कहा, ‘रिकॉर्ड पर मौजूद सबूतों से ऐसा लगता है कि स्कारलेट कीलिंग को ‘कर्लीज’ के बाद लुई की झोंपड़ी में ले जाया गया था, जहां उसकी मौत हो गई।’

उन्होंने कहा कि सबूतों से यह भी उजागर हुआ कि ‘लुई की झोंपड़ी में पहुंचने से पहले शायद वह खतरनाक मादक पदार्थों के नशे में थी।’ हरियाणा के हिसार की निवासी सोनाली फोगाट की मौत के बाद अब यह रेस्तरां फिर से चर्चा में है। सोनाली फोगाट के भतीजे मोहिंदर फोगाट ने दावा किया है कि सोनाली को गिरफ्तार किए गए दो आरोपी सुधीर सागवान और सुखविंदर वासी ‘कर्लीज’ ले गए थे।

मोहिंदर ने कहा, ‘उन्हें (सोनाली) बताया गया कि हरियाणा का एक व्यक्ति ‘कर्लीज’ में काम करता है जिससे वे मिलना चाहते हैं।’ मोहिंदर ने कहा कि सोनाली ‘कर्लीज’ से सीधे अपने होटल के कमरे में चली गईं जहां से अगली सुबह उन्हें अस्पताल ले जाया गया। मोहिंदर ने कहा कि होटल पहुंचने के बाद सोनाली ने बेचैनी की शिकायत की थी।

संपर्क करने पर ‘कर्लीज’ के मालिक एडविन नून्स ने पुष्टि की कि सोनाली अन्य लोगों के साथ उनके रेस्तरां में आई थीं। नून्स ने कहा, ”हमारे स्टाफ में से कोई भी उन्हें नहीं जानता था। वे हमारे लिए सामान्य ग्राहकों की तरह थे।’ नून्स ने कहा कि सोनाली की मौत के बाद उनके रेस्तरां में सोनाली की मौजूदगी को लेकर गोवा पुलिस ने उनसे पूछताछ की है।

नून्स ने कहा, ‘मैंने पुलिस को बताया है कि वे हमारे लिए किसी अन्य ग्राहक की तरह ही थे।’ सोनाली फोगाट 22 अगस्त को अपने साथी सुधीर सागवान और सुखविंदर वासी के साथ गोवा पहुंची थीं। सोनाली फोगाट की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शव पर ”कई चोट” का उल्लेख होने के बाद गोवा पुलिस ने सोनाली के दोनों सहयोगियों के खिलाफ हत्या का आरोप दर्ज किया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper