स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण फेस-2 की समीक्षा बैठक सम्पन्न

बरेली: मिशन निदेशक, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण), उ0प्र0 श्री अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण फेस-2 की समीक्षा बैठक आई0वी0आर0आई0 स्थित स्वामी विवेकानन्द सभागार में सम्पन्न हुई।

मिशन निदेशक महोदय ने जनपद बरेली के 10, बदायूॅं के 10, पीलीभीत के 10 एवं शाहजहांपुर के 10 ग्रामों के ग्राम प्रधानों एवं संबंधित सचिव, ग्राम पंचायत से व्यक्तिगत वार्ता कर प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत निर्मित कराये जा रहे कूड़ा प्रबन्धन केन्द्रों, सामुदायिक कम्पोस्ट पिट, सिल्ट कैचर, व्यक्तिगत नाडेप, सामुदायिक नाडेप, नाली निर्माण, कूड़ा गाड़ी, प्लास्टिक बैंक, तालाब सौंदर्यीकरण एवं बर्मी कम्पोस्ट आदि विकास कार्यों की समीक्षा की। मिशन निदेशक द्वारा समस्त जनपदों की निर्धारित लक्ष्यों को 31 दिसम्बर, 2022 तक स्वीकृत कार्ययोजना के अनुसार समस्त कार्य पूर्ण कराते हुये भुगतान की कार्यवाही पूर्ण कराने के निर्देश दिये। साथ ही यह भी निर्देश दिये कि निर्माण कार्य पूर्ण कराना शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। समीक्षा के दौरान कुछ ग्राम प्रधानों द्वारा बताया गया है कि आर0आर0सी0 केन्द्रों के लिये राजस्व विभाग द्वारा जमीन उपलब्ध नहीं कराई गई है, जिस पर मिशन निदेशक ने कहा कि मुख्य विकास अधिकारी एवं जिलाधिकारी से वार्ता कर प्राथमिकता के आधार पर   जमीन उपलब्ध कराने हेतु अनुरोध किया जाये। मिशन निदेशक श्री अनुज कुमार झा ने समस्त ग्राम प्रधानों को बताया कि ग्राम पंचायतों में कूडा पृथक्कीकरण केन्द्रों एवं जगह-जगह बनाये जा रहे कूड़ा कलेक्शन केन्द्रों, डस्टबिन, प्लास्टिक बैंकों आदि के लगाने के पंचायत ग्राम पंचायतों से स्वच्छता कर प्राप्त करने की प्रक्रिया शुरू करायें, जिससे ग्राम पंचायतों की आमदनी बढ़ेगी और कचरे का बेहतर प्रबन्धन भी हो सकेगा।

मण्डल के अन्तर्गत जनपद बरेली में 76, बदायूं में 56, पीलीभीत में 45 एवं शाहजहांपुर में 29 ग्रामों को ओ0डी0एफ0 प्लस के लिए चयन किया गया है। मण्डल के चारों जनपदों से 206 ग्रामों को ओ0डी0एफ0 प्लस मॉडल बनाने की कार्यवाही की जा रही है, जिसमें ठोस कचरा प्रबंधन एवं तरल कचरा प्रबंधन के अंतर्गत हर गॉव को स्वच्छ एवं सुंदर बनाना प्रशासन की प्राथमिकता है। स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के नोडल अधिकारी श्री एस0एन0 सिंह ने ग्राम पंचायतों में कराये जा रहे कार्यां के सापेक्ष भुगतान तेजी से कराने पर जोर दिया तथा यह भी कहा कि यदि वित्तीय प्रगति नहीं होती है तो कार्य की स्थलीय प्रगति नहीं मानी जायेगी। वित्तीय एवं भौतिक प्रगति दोनों कार्य साथ ही पूर्ण कराये जायें। साथ ही यह भी निर्देश दिये कि एस0बी0एम0 फेस-2 की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति एवं प्रत्येक जनपद के आवेदन के माध्यम से ऑनलाइन समीक्षा की जायेगी।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी बरेली श्री जग प्रवेश, मुख्य विकास अधिकारी बदायूँ श्री ऋषिराज, मुख्य विकास अधिकारी शाहजहांपुर श्री एस0बी0 सिंह, स्वच्छ भारत मिशन के नोडल अधिकारी श्री एस0एन0 सिंह, उप निदेशक पंचायत बरेली मण्डल, बरेली श्री महेन्द्र सिंह, स्टेट कंसलटेंट श्री संजय सिंह चौहान, स्टेट कंसलटेंट श्री मनोज कुमार शुक्ला एवं मण्डल के समस्त जिला पंचायत राज अधिकारी उपस्थित रहे।

बरेली से ए सी सकसेना।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper