104 घंटे बाद मौत को मात देकर लौटा राहुल, कलेजे के टुकड़े को देखकर माँ का हुआ ये हाल

रायपुर: छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा में बोरवेल में फंसे राहुल का रेस्क्यू ऑपरेशन समाप्त हो गया है। लगभग 104 घंटे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के पश्चात् राहुल को सकुशल बाहर निकाल लिया गया है। सीएम भूपेश बघेल ने राहुल के बाहर निकल आने पर खुशी जताई है। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि माना कि चुनौती बड़ी थी किन्तु हमारी रेस्क्यू टीम ने बेहतरीन काम कर दिखाया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट किया, ‘सभी की दुआओं और रेस्क्यू टीम के अथक, समर्पित प्रयासों से राहुल साहू को सकुशल बाहर निकाल लिया गया है। वह जल्द से जल्द पूर्ण तौर पर स्वस्थ हो, ऐसी हमारी कामना है।’ मुख्यमंत्री बघेल ने एक और ट्वीट में लिखा, ‘हमारा बच्चा बहुत बहादुर है। उसके साथ गढ्ढे में 104 घंटे तक एक सांप और मेढक उसके साथी थे। आज पूरा छत्तीसगढ़ उत्सव मना रहा है, जल्द चिकित्सालय से पूरी तरह ठीक होकर लौटे, हम सब कामना करते हैं। इस ऑपरेशन में सम्मिलित सभी टीम को पुनः बधाई एवं धन्यवाद।’

वही CMO के अनुसार, राहुल की हालत अभी स्थिर है। एम्बुलेंस के डॉक्टर ने बताया कि प्राथमिक जांच में बीपी, शुगर, हार्ट रेट नॉर्मल है तथा फेफड़े भी क्लियर हैं। बिलासपुर के अपोलो हॉस्पिटल में पूरी तैयारी हो चुकी है, कुछ ही देर में एम्बुलेंस बिलासपुर पहुंच जाएगी। सेना के जवान गौतम सूरी ने खबर देते हुए बताया, ‘यह बहुत ही चुनौतीपूर्ण ऑपरेशन था। टीम के सदस्यों के संयुक्त प्रयासों से राहुल को सफलतापूर्वक बचाया जा सका। यह हम सभी के लिए बहुत बड़ी कामयाबी है। सेना के लगभग 25 अफसरों को यहां तैनात किया गया था।’ इसके अतिरिक्त राहुल की मां भी निरंतर अपने बेटे से बात कर रही थीं। मां की आवाज को सुनकर राहुल बोरवेल में हरकत भी कर रहा था। राहुल के बाहर निकलते ही मां ने अपने लाल पर खूब प्यार लुटाया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper