SL Vs Pak: दूसरे टेस्ट में पाकिस्तान की शर्मनाक हार, 1-1 से बराबर हुई सीरीज

कोलंबो: पाकिस्तान ने श्रीलंकाई धरती पर अपनी जिस जीत का सपना देखा था, वो चकनाचूर हो गया है। आगाज तो उसने अच्छा किया था, लेकिन मेजबानों ने सीरीज ख़त्म होते-होते मुकाबला बराबरी पर ठहरा। 2 टेस्ट मैच की श्रुंखला पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुई। ये दोनों ही टेस्ट गॉल में खेले गए। पहले टेस्ट का परिणाम 4 विकेट से पाकिस्तान के पक्ष में रहा, तो वहीं दूसरे टेस्ट में श्रीलंका ने 246 रनों के बड़े अंतर से पाक टीम को धुल चटा दी।

श्रीलंका ने पाकिस्तान के समक्ष दूसरे टेस्ट में जीत के लिए 508 रन का लक्ष्य रखा था। इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम के शीर्ष क्रम के कुछेक बल्लेबाजों ने तो थोड़ी बहुत हिम्मत दिखाई भी, मगर जो निचले बल्लेबाज़ों के विकेट भरभरा कर गिर गिए। सलामी बल्लेबाज़ इमाम-उल-हक के 49 रन और कप्तान बाबर आजम के 81 रनों की बदौलत एक समय पाकिस्तान का स्कोर 3 विकेट पर 176 रन था। किन्तु इसके बाद बाकी के 7 बैट्समैन मिलकर स्कोर बोर्ड में 100 रन भी नहीं जोड़ पाए। इसका परिणाम ये हुआ कि 508 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की पूरी टीम अपनी दूसरी पारी में महज 261 रन पर सिमट गई और मुकाबला 246 रन से हार गई।

पाकिस्तान की कमर तोड़ने में श्रीलंका के गेंदबाजों, खासकर उसके फिरकी गेंदबाज़ों का बड़ा रोल रहा। दूसरी पारी में पाकिस्तान के 10 में से 9 विकेट श्रीलंका के 2 स्पिनरों ने गिराए। प्रबात जयसूर्या ने 5 विकेट तो रमेश मेंडिस ने 4 विकेट झटके। वहीं पाकिस्तान का एक बल्लेबाज रन आउट होकर पवेलियन लौटा। बता दें कि, श्रीलंका ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए अपनी पहली पारी में 378 रन बनाए थे। जवाब में पाकिस्तान अपनी पहली पारी में महज 231 रन ही बना पाया। इस समय भी लंकाई स्पिनरों ने ही पाकिस्तान को ढेर किया था। इसके बाद फिर श्रीलंका ने दूसरी इनिंग 8 विकेट पर 360 रन बनाकर घोषित की और पाक को 508 रनों का लक्ष्य मिला।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper