उत्तर प्रदेश

अनुसंधान के लिए नाईपर-रायबरेली और एम्स, रायबरेली के बीच समझौता ज्ञापन

रायबरेली : राष्ट्रीय औषधीय शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, रायबरेली (नाईपर-रायबरेली) और एम्स, रायबरेली के बीच 07-08-2023 को एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। नाईपर-रायबरेली और एम्स-रायबरेली मिलकर साझा अनुसंधान, छात्रों-फैक्ल्टी का आदान-प्रदान तथा संयुक्त सम्मेलन/कार्यशाला/सेमिनार और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कराएंगे।

इस एमओयू पर प्रोफेसर शुभिनी ए. शराफ, निदेशक, नाईपर-रायबरेली और प्रोफेसर अरविंद राजवंशी, कार्यकारी निदेशक, एम्स-रायबरेली ने एम्स के कैंपस में हस्ताक्षर किए।

दोनों संस्थानों ने औषधीय रिसर्च के निष्कर्षों को उद्योग जगत तक भी पहुंचाने का लक्ष्य रखा है, ताकि भविष्य में आम लोगों को भी रिसर्च का लाभ मिल सके। इस एमओयू से छात्रों की अकादमिक और अनुसंधान के आधुनिक इन्फ्रास्ट्र्क्चर तक पहुंच आसान बनेगी।

प्रो. शुभिनी ए. शराफ, निदेशक, नाईपर-रायबरेली ने कहा, “हमारे अनुसंधान कार्यक्रमों का विस्तार हो रहा है। हम समयबद्ध तरीके से ठोस परिणामों के लिए अग्रणी शोध पर ध्यान केंद्रित करेंगे।” प्रोफेसर अरविंद राजवंशी ने कहा, “हम रिसर्च के लिए मिलकर काम करने के लिए तैयार हैं। एमओयू साझेदारी को मजबूत करेगा और सहयोग के लिए नए रास्ते भी बनाएगा।“

एमओयू के तहत, नाईपर-रायबरेली और एम्स, रायबरेली रिसर्च और शैक्षिक कार्यक्रमों, शिक्षण सामग्री और उनके शैक्षिक और अनुसंधान कार्यक्रमों से संबंधित जानकारी का आदान-प्रदान करने पर भी सहमत हुए हैं।

नाईपर- रायबरेली, औषधीय विभाग, रसायन और उर्वरक मंत्रालय, भारत सरकार के तत्वावधान में राष्ट्रीय महत्व का संस्थान है। वर्तमान में संस्थान सरोजनी नगर, लखनऊ (यूपी) स्थित अपने ट्रांजिट कैंपस से शिक्षा प्रदान कर रहा है। नाईपर फार्मेसी के क्षेत्र में अत्याधुनिक उपकरणों और प्रयोगशालाओं के साथ गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान कर रहा है। हाल ही में एक बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुये नाईपर, रायबरेली ने देश में फार्मेसी श्रेणी में नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) 2023 में 14वां स्थान हासिल किया है। फैकल्टी और छात्रों द्वारा की जा रहीं हाई क्वालिटी रिसर्च के दुनिया की प्रमुख जर्नल्स में लगातार प्रकाशित होने से संस्थान को वैश्विक पहचान मिल रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper