इन राशि के लोग होते हैं हद से ज्यादा आलसी, जानें अपनी राशि का हाल

 


नई दिल्ली. एक कहावत है ‘आलस आपका सबसे बड़ा शत्रु है.’ आराम किसे नहीं भाता है, लेकिन अगर आराम की आदत हद से ज्यादा लग जाए तो ये आलस की श्रेणी में आने लगता है. ये आलस भी बेवजह नहीं होता है बल्कि इसका कारण आपकी राशि भी हो सकती है. दरअसल इंसान जिस ग्रह-नक्षत्र में पैदा होता है, वही चीजें इंसान का नेचर निर्धारित करती हैं. राशि का संबंध भी ग्रह नक्षत्रों से होता है ऐसे में राशियां आलस की वजह हो सकती हैं. आइए जानते हैं कि कौन सी राशि वाले जातक ज्यादा आलसी होते हैं.

धनु राशि
धनु राशि वाले घूमने-फिरने में बड़े आलसी होते हैं. इन्हें बार-बार उठना पसंद नहीं होता है. ये अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलने में कतराते हैं. धनु राशि वाले जातक इतने आलसी होते हैं कि खाने के लिए भी मुश्किल से उठते हैं. इन्हें सोना बहुत पसंद होता है

मीन राशि
मीन राशि के जातक पूरी तरह से आलसी नहीं होते हैं, बल्कि इनका आलस वक्त और मूड पर निर्भर करता है. अगर इनका मूड सही होगा तो सारा काम खुशी-खुशी कर देंगे और मूड सही न हो तो, इन्हें जरा सा हिलने में भी दिक्कत होती है.

कुंभ राशि
कुंभ राशि वालों को बार-बार कोई काम करना पसंद नहीं आता है. कुंभ राशि वाले ज्यादा मुश्किल करियर चुनने में कतराते हैं, इन्हें आसान काम करना पसंद होता है, हालांकि जिम्मेदारी मिलने पर ये पीछे नहीं हटते हैं.

सिंह राशि
सिंह राशि वालों को अटेंशन पाना अच्छा लगता है. ऐसे लोग जल्दी पॉपुलर होने की इच्छा रखते हैं. इनकी रुचि डांस और गाने जैसे रचनात्मक कामों में होती है. ज्योतिष के मुताबिक सिंह राशि वाले मेहनत से दूर भागते हैं. इन लोगों को आसान काम पसंद आते हैं, मुश्किल काम सिंह राशि वालों को तनाव में डाल देता है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper