इमरान खान ने फिर की भारत की तारीफ, भरी सभा में चला दिया विदेश मंत्री जयशंकर का वीडियो…

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने एक बार फिर भारत और भारत की स्वतंत्र विदेश नीति की प्रशंस की है। इमरान खान ने लाहौर में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान बताया कि किस तरह भारत मजबूती से अपनी बात रखता है और किसी भी पश्चिम देश के दबाव में निर्णय नहीं लेता है। यहां तक की इमरान खान ने भरी सभा में विदेश मंत्री एस जयशंकर का एक वीडियो भी चला दिया, जिसमें उन्होंने रूस से तेल खरीदने को लेकर जवाब दिया था।

पूर्व पीएम ने कहा कि भारत अमेरिका का रणनीतिक साझेदार है, हमारी चीन के साथ कोई साझेदारी नहीं है। जब अमेरिका ने भारत से कहा कि आप रूस से तेल न खरीदें तो उनके विदेश मंत्री ने कहा कि तुम कौन होते हो हमें कहने वाले, यूरोप रूस से गैस खरीद रहा है। हमारे लोगों की आवश्यकता है, हम रूस से तेल खरीदेंगे। ये होता है आजाद मुल्क। जब हमारे यहां ये इंर्पोटेड सरकार आई तो हमने रुसियों से सस्ता तेल खरीदने को लेकर बात कर ली थी। मगर इनकी हिम्मत नहीं थी। यहां तेल और पेट्रोल के दाम आसमानों पर हैं। लोग गरीबी में जी रहे हैं। मैं इस गुलामी के विरुद्ध हूं।

इमरान खान ने रैली में कहा कि अगर भारत जिसने हमारे साथ आजादी हासिल की है, वो अपने लोगों की आवश्यकताओं के हिसाब से अपनी विदेश नीति बना सकता है और आत्मनिर्भर हो सकता है, तो ये लोग कौन हैं, जो कहते हैं कि भिखारी चुनने वाले नहीं हैं। ये पहली दफा नहीं है, जब इमरान खान ने हमला बोलने के लिए भारत की प्रशंसा की है, वे पहले भी ऐसा कर चुके हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper