इसरो ने सफलतापूर्वक लॉन्च किया SSLV रॉकेट

श्रीहरिकोटा: इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन आज पहला स्माल सैटेलाइट लॉन्च वेहिकल सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया। आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से यह सैटेलाइट 9.18 बजे लॉन्च किया हया। देश की आजादी 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। इस मौके पर एसएसएलवी में को-पैसेंजर सैटेलाइट होगी, जिसका नाम आजादी सैट होगा, जिसमे 75 पेलोड हैं, इसे देश के 75 गांवों के सरकारी स्कूल के 750 छात्रों ने तैयार किया है। इसरो के चेयरमैन एस सोमनाथ ने बताया कि एसएसएलवी-डी1 ने सभी चरणों में हमारी अपेक्षानुसार ही प्रदर्शन किया है। टर्मिनल फेज के दौरान कुछ डेटा जरूर मिस हुए, हम उसका विश्लेषण कर रहे है। हम एक स्थिर कक्षा प्राप्त करने के संबंध में मिशन के अंतिम परिणाम को समाप्त करने के लिए डेटा का विश्लेषण कर रहे हैं।

जिन छात्राओं ने इस सैटेलाइट को डिजाइन किया है वह भी इस लॉन्च की साक्षी बनेंगी और इस मौके पर मौजूद थीं। तेलंगाना के सेंट फ्रांसिस गर्ल्स हाई स्कूल की छात्रा श्रेया ने बताया कि हमारे स्कूल के तीन ग्रुप आज एसएसएलवी लॉन्च में हिस्सा लेंगे। मैं बहुत खुश हूं कि हमे यह अवसर मिला। हमने इसके लिए काफी कड़ी मेहनत की है, आज हम आजादी सैट सैटेलाइ के लॉन्च के गवाह बनेंगे। वहीं जोगा अनम ने अपने टीचर का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि यह पूरी जीवन याद रहने वाला पल है।

अनम ने कहा कि इस सैटेलाइट ने हमे अवसर दिया कि हम स्पेसक्राफ्ट और एयरोनॉटिक्स को समझ सके। यह हम छात्राओं को स्पेस में करियर बनाने के लिए प्रेरित करेगा। यह महारी टीचर्स के प्रयास के बिना संभव नहीं था। यह हम सभी के लिए बहुत सुनहवरा पल है, हम यहां इस जबरदस्त कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आए हैं। केंद्र सरकार का धन्यवाद देते हुए एक छात्रा ने कहा कि यह तेलंगाना के लिए गर्व का पल है। यह केंद्र सरकार का प्रोजेक्ट है, हम आजादी का अमृत महोत्सव पर्व का जश्न मना रहे हैं। हमे गर्व है कि यह यहां पर हैं। हमने इसके लिए काफी मेहनत की है हमे अपने राज्य पर भी गर्व है। केंद्र सरकार द्वारा लड़कियों के लिए किए गए इस प्रयास के लिए हम शुक्रगुजार हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper